उज्जवल भारत, उज्जवल भविष्य कार्यक्रम को PM मोदी ने किया संबोधित

PM मोदी ने उज्जवल भारत, उज्जवल भविष्य कार्यक्रम में कहा- मेरे लिए बहुत संतोष का विषय है कि बीते वर्षों में हमने ऊर्जा के क्षेत्र में पिछली बहुत सी कमियों को दूर कर पॉवर सेक्टर को मजबूती दी है।
उज्जवल भारत, उज्जवल भविष्य कार्यक्रम को PM मोदी ने किया संबोधित
उज्जवल भारत, उज्जवल भविष्य कार्यक्रम को PM मोदी ने किया संबोधितSocial Media

दिल्ली, भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कान्फ्रेसिंग द्वारा 'उज्जवल भारत, उज्जवल भविष्य' कार्यक्रम में हिस्सा लिया और कार्यक्रम को संबोधित किया।

हमने ऊर्जा के क्षेत्र में पॉवर सेक्टर को दी मजबूती :

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा- आज के समय में बिजली के बिना जीवन की कोई कल्पना ही नहीं कर सकता। मेरे लिए बहुत संतोष का विषय है कि बीते वर्षों में हमने ऊर्जा के क्षेत्र में पिछली बहुत सी कमियों को दूर कर पॉवर सेक्टर को मजबूती दी है।

आपको याद होगा कि आजादी के 70 साल बाद भी देश के 18 हजार गांवों तक बिजली नहीं पहुंच सकी थी। आज के नए भारत में गांव-गांव में लोग बिजली का उत्पादन कर सकें, इस दिशा में काम हो रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

आज का कार्यक्रम नए भारत के नए लक्ष्यों और नई सफलताओं का प्रतीक :

आगे उन्‍होंने कहा- आज का ये कार्यक्रम 21वीं सदी के नए भारत के नए लक्ष्यों और नई सफलताओं का प्रतीक है। आजादी के इस अमृत काल में भारत ने अगले 25 वर्षों के विजन पर काम करना शुरू कर दिया है।

  • अगले 25 वर्षों में भारत की प्रगति को गति देने में एनर्जी और पॉवर सेक्टर की बहुत बड़ी भूमिका है। एनर्जी सेक्टर की मजबूती Ease of doing business के लिए भी जरूरी है और Ease of living के लिए भी उतनी ही अहम है।

  • आज हजारों करोड़ रुपयों के जिन projects की launching और लोकार्पण हुआ है, वो भारत की energy security और green future की दिशा में एक अहम कदम है।

  • हाइड्रोजन गैस से देश की गाड़ियों से लेकर देश की रसोई तक चलें, इसको लेकर बीते वर्षों में बहुत चर्चा हुई है। आज इसके लिए भारत ने एक बहुत बड़ा कदम उठाया है।

  • लद्दाख और गुजरात में ग्रीन हाइड्रोजन के दो बड़े projects पर आज से काम शुरु हो रहा है। लद्दाख में लग रहा प्लांट देश में गाड़ियों के लिए ग्रीन हाईड्रोजन का उत्पादन करेगा। ये देश का पहला project होगा जो ग्रीन हाइड्रोजन आधारित ट्रांसपोर्ट के कमर्शियल इस्तेमाल को संभव बनाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co