अमेरिका यात्रा से स्‍वदेश लौटे PM मोदी- आज की मन की बात का प्रोग्राम हो सकता है खास
अमेरिका यात्रा से स्‍वदेश लौटे PM मोदी- आज की मन की बात का प्रोग्राम हो सकता है खासSocial Media

अमेरिका यात्रा से स्‍वदेश लौटे PM मोदी- आज की मन की बात का प्रोग्राम हो सकता है खास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अमेरिका दौरा समाप्‍त होने के बाद आज वे नई दिल्‍ली आने वाले हैं और आज उनका मन की बात का 81वां संस्‍करण भी है, जो खास हो सकता है...

दिल्‍ली, भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अमेरिका दौरा समाप्‍त हो गया और वे स्‍वदेश के लिए भी लौट चुके हैं। PM मोदी अमेरिका से ऐसे समय पर नई दिल्‍ली लौट रहे हैं, जब उनका सबसे खास प्रोग्राम 'मन की बात' जो हर महीने के आखिरी रविवार को हाेता है।

PM के मन की बात का 81वां संस्‍करण :

माना जा रहा है कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मन की बात का 81वां संस्‍करण खास हो सकता है। क्‍योंकि, पीएम मोदी का ये कार्यक्रम तब हो रहा है, जब वो अमेरिका यात्रा से लौट रहे हैं और अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात के जरिए राष्‍ट्र को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अमेरिका दौरा शनिवार रात को खत्म होने के बाद वे न्यूयॉर्क से भारत के लिए रवाना हो गए थे, वो आज सुबह 11.30 बजे दिल्ली पहुंचेंगे।

PM के स्‍वागत के लिए दिल्‍ली में जोरदार तैयारियां :

तो वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका दौरे के बाद आज दिल्ली पहुंचेंगे, तो यहां भी उनके स्वागत के लिए पालम टेक्निकल एयरपोर्ट के बाहर जोरदार तैयारियां की गई हैं।

अमेरिका ने PM मोदी को लौटाई 157 कलाकृतियां :

बताया जा रहा है कि, PM नरेंद्र मोदी अपने साथ 157 प्राचीन कलाकृतियां और वस्तुएं लेकर आए हैं, यह कलाकृतियां कई शताब्दी पुरानी हैं, जिन्हें तस्करी कर अमेरिका ले जाया गया था और अब अमेरिका ने PM मोदी को यह कलाकृतियां लौटाई हैं। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की ओर से जारी हुए एक बयान में बताया गया- इनमें से अधिकतर कलाकृतियां व वस्तुएं 11वीं से 14वीं शताब्दी के बीच की हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने इन कलाकृतियों को लौटाने के लिए अमेरिका का धन्यवाद किया। प्रधानमंत्री और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने चोरी, अवैध व्यापार और सांस्कृतिक वस्तुओं की तस्करी को रोकने के प्रयासों को मजबूत करने की प्रतिबद्धता जताई।

बता दें कि, PM मोदी बीते बुधवार को अमेरिका दौरे के लिए रवाना हुए थे, इस दौरान उन्‍होंने कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के साथ ही अमेरिका के राष्ट्रपति बाइडेन के साथ द्विपक्षीय वार्ता, उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस के साथ मुलाकात, व्यक्तिगत रूप से पहले क्वाड नेता शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया, इसके साथ ही संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) को भी संबोधित किया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.