वैश्विक AI वर्चुअल शिखर सम्मेलन RAISE 2020 के उद्घाटन में बोले PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेगा वर्चुअल समिट RAISE 2020 का उद्घाटन किया। इस दौरान PM मोदी ने अपने संबोधन में क्‍या-क्‍या कहा, यहां देखें...
वैश्विक AI वर्चुअल शिखर सम्मेलन RAISE 2020 के उद्घाटन में बोले PM मोदी
वैश्विक AI वर्चुअल शिखर सम्मेलन RAISE 2020 के उद्घाटन में बोले PM मोदीTwitter

दिल्‍ली, भारत। दुनिया में सामाजिक परिवर्तन में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए रिस्पॉन्सिबल AI फॉर सोशल एम्पावरमेंट (RAISE 2020) वर्चुअल शिखर सम्मेलन आज 5 अक्टूबर से शुरू हो गया है, जिसका प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेगा वर्चुअल समिट RAISE 2020 का उद्घाटन किया, इस दौरान केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद भी मौजूद रहे।

भारत बने आर्टिफिशल इंटेलिजेंस का हब :

RAISE 2020 कार्यक्रम में PM मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि, ''आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस के साथ मनुष्य का टीम वर्क इस ग्रह के लिए काफी कुछ कर सकता है। हम चाहते हैं कि भारत आर्टिफिशल इंटेलिजेंस का हब बने। कई भारतीय अभी इसपर काम कर रहे हैं, मुझे उम्मीद है कि आने वाले वक्त में और भी लोग इससे जुड़ेंगे।''

मैं कृषि, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा के साथ-साथ अगली पीढ़ी के शहरी बुनियादी ढांचे का निर्माण करने और ट्रैफिक जाम को कम करने, सीवेज सिस्टम में सुधार जैसे शहरी मुद्दों को संबोधित करने में एआई के लिए एक बड़ी भूमिका देखता हूं। इसका उपयोग हमारी आपदा प्रबंधन प्रणालियों को मजबूत बनाने के लिए किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

RAISE 2020 कार्यक्रम में PM द्वारा कहीं गई प्रमुख बातें :

  • हमने 'रिस्पॉन्सिबल आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस फॉर यूथ' इसी साल अप्रैल में लॉन्च किया है। इसके तहत स्कूलों के 11,000 छात्रों ने बेसिक कोर्स पूरा किया। अब वे आर्टफिशयल इंटेलिजेंस से जुड़े प्रोजेक्ट तैयार कर रहे हैं।

  • भारत हाल में नई एजुकेशन पॉलिसी लेकर आया है। इसमें टेक्नॉलजी बेस्ट लर्निंग और स्किल तैयार करने पर काफी फोकस है। कई क्षेत्रीय भाषाओं और बोलियों में ई-कोर्स तैयार किए जाएंगे।

  • यह कार्यक्रम आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस पर चर्चा के लिए अच्छा प्रयास है। आपलोगों ने अच्छी तरह से तकनीक और मानव को सशक्त करने से जुड़े बेहतरीन पहलू सुझाए हैं।

तो वहीं, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि, ''हम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) का स्वागत करते हैं, क्योंकि इसमें विकास उत्पन्न करने और आगे इक्विटी और डिलीवरी करने की बहुत अधिक संभावनाएं हैं।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co