गुजरात को PM मोदी की एक और सौगात, घोघा-हजीरा के बीच रोपैक्स फेरी सेवा शुरू

गुजरात में हजीरा और घोघा के बीच रो-पैक्स फेरी सर्विस का उद्घाटन कर गुजरात को एक और बड़ी सौगात दी है। इस दौरान PM मोदी ने देश को संबोधित करते हुए कई बड़ी बातें कही...
गुजरात को PM मोदी की एक और सौगात, घोघा-हजीरा के बीच रोपैक्स फेरी सेवा शुरू
गुजरात को PM मोदी की एक और सौगात, घोघा-हजीरा के बीच रोपैक्स फेरी सेवा शुरूTwitter

दिल्ली, भारत। त्‍योहारी सीजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 8 नवंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गुजरात को एक और बड़ी सौगात दी है। PM मोदी ने आज सूरत को सौराष्ट्र से जलमार्ग से जोड़ने वाले हजीरा-घोघा रो-पैक्स फेरी सर्विस का लोकार्पण किया हैं।

लोगों का वर्षों का इंतजार खत्म :

हजीरा और घोघा के बीच रो-पैक्स फेरी सर्विस के उद्घाटन के बाद देश को संबोधित करते हुए PM मोदी ने अपने संबोधन में कहा- आज घोघा और हजीरा के बीच रोपैक्स फेरी सर्विस शुरु होने से सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात दोनों क्षेत्र के लोगों का वर्षों का इंतजार खत्म हुआ है। इस सेवा से घोघा और हजीरा के बीच अभी जो सड़क की दूरी 375 किलोमीटर की है, वो समंदर के रास्ते सिर्फ 90 किलोमीटर ही रह जाएगी। यानि जिस दूरी को कवर करने में 10 से 12 घंटे का समय लगता था, अब उस सफर में 3-4 घंटे ही लगा करेंगे। ये समय तो बचाएगा ही, आपका खर्च भी कम होगा।

आगे उन्‍होंने कहा, ''हजीरा में आज नए टर्मिनल का भी लोकार्पण किया गया है। इस सेवा से समय तो बचेगा ही आपका खर्च भी कम होगा। इसके अलावा सड़क से ट्रैफिक कम होगा, वो प्रदूषण कम करने में भी मदद करेगा। सालभर में करीब 80 हजार गाड़ियां और करीब 30 हजार ट्रक इस नई सेवा का लाभ ले सकेंगे। इससे पेट्रोल डीजल की भी बचत होगी।''

ये कनेक्टिविटी इस क्षेत्र के जीवन को बदलेंगी :

PM मोदी ने ये भी कहा, ''सबसे बड़ी बात ये है कि गुजरात के एक बड़े व्यापारिक केंद्र के साथ सौराष्ट्र की ये कनेक्टिविटी इस क्षेत्र के जीवन को बदलने वाली है। अब सौराष्ट्र के किसानों और पशुपालकों को सब्जी, फल और दूध को सूरत पहुंचाने में ज्यादा आसानी होगी। आज गुजरात में समुद्री कारोबार से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर और कैपेसिटी बिल्डिंग पर तेज़ी से काम चल रहा है। जैसे गुजरात मेरीटाइम क्लस्टर, गुजरात समुद्री विश्वविद्यालय, भावनगर में सीएनजी टर्मिनल, ऐसी अनेक सुविधाएं गुजरात में तैयार हो रही हैं।''

आज देश भर की समुद्री सीमा में पोर्ट्स की कैपिसिटी को भी बढ़ाया जा रहा है। नए पोर्ट्स का भी तेजी से निर्माण हो रहा है। देश के पास करीब 21 हजार किमी का जो जलमार्ग है, वो अधिक से अधिक कैसे देश के काम आए, इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

जहाजरानी मंत्रालय का बदला नाम :

सरकार के इन प्रयासों को गति देने के लिए एक और बड़ा कदम उठाया जा रहा है, अब जहाजरानी मंत्रालय का भी नाम बदला जा रहा है। अब जहाजरानी मंत्रालय का नाम बंदगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्रालय नाम से जाना जाएगा।

वोकल फॉर लोकल का मंत्र न भूले :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- त्योहारों के इस समय मे खरीददारी भी खूब हो रही है, इस खरीददारी के समय आपको वोकल फॉर लोकल का मंत्र नहीं भूलना है। देश आजादी के 75 वर्ष मनाने वाला है, तब तक वोकल फॉर लोकल का मंत्र हमारा, हमारे परिवार का मंत्र बन जाये, इस पर हमारा बल होना चाहिए। इसलिए ये दीवाली वोकल फॉर लोकल का टर्निंग पॉइंट बन जाए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co