त्रिपुरा को मिले 3 उपकार, PM मोदी बोले- डबल इंजन की सरकार का कोई मुकाबला नहीं
PM मोदी बोले- डबल इंजन की सरकार का कोई मुकाबला नहींSocial Media

त्रिपुरा को मिले 3 उपकार, PM मोदी बोले- डबल इंजन की सरकार का कोई मुकाबला नहीं

त्रिपुरा के अगरतला में PM मोदी ने विभिन्न विकास पहलों का उद्घाटन और शुभारंभ किया एवं अपने संबोधन में कहा- डबल इंजन की सरकार का कोई मुकाबला नहीं है। डबल इंजन की सरकार यानि संसाधनों का सही इस्तेमाल।

त्रिपुरा, भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मंगलवार को मणिपुर और त्रिपुरा को दौरे पर है, इस दौरान उन्‍होंने मणिपुर में विकास परियोजनाओं की सौगात देने के बाद अब त्रिपुरा के अगरतला में विभिन्न विकास पहलों का उद्घाटन और शुभारंभ किया है। त्रिपुरा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगरतला में महाराजा बीर बिक्रम (MBB) हवाई अड्डे के नए एकीकृत टर्मिनल भवन का उद्घाटन किया।

त्रिपुरा को तीन उपहार मिल रहे हैं :

त्रिपुरा के अगरतला में PM मोदी ने अपने संबोधन में कहा- साल की शुरुआत में ही त्रिपुरा को मां त्रिपुर सुंदरी के आशीर्वाद से तीन उपहार मिल रहे हैं।

  • पहला उपहार – कनेक्टिविटी का।

  • दूसरा उपहार – मिशन 100 विद्या ज्योति स्कूलों का।

  • तीसरा उपहार - त्रिपुरा ग्राम समृद्धि योजना का।

त्रिपुरा के लोगों ने दशकों से अज्ञानता देखी है :

PM मोदी ने बताया कि, ''21वीं सदी में भारत विकास की राह पर एक साथ सभी कदम उठाकर आगे बढ़ेगा। त्रिपुरा के लोगों ने दशकों से अज्ञानता देखी है। इससे पहले, बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार था और कोई विकास नहीं था। सरकार के पास न तो कोई विजन था और न ही सही मंशा।''

PM मोदी ने कहा- मैंने त्रिपुरा से 'हीरा' का वादा किया था :

  • H - राजमार्ग

  • I - इंटरनेट

  • R- रेलवे

  • A - एयरवेज

आज, इन चार स्तंभों पर सवार होकर त्रिपुरा में कनेक्टिविटी में सुधार हो रहा है।

डबल इंजन की सरकार का कोई मुकाबला नहीं है। डबल इंजन की सरकार यानि संसाधनों का सही इस्तेमाल। डबल इंजन की सरकार यानि संवेदनशीलता। डबल इंजन की सरकार यानि लोगों के सामर्थ्य को बढ़ावा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

  • हम त्रिपुरा को पूर्वोत्तर में कनेक्टिविटी के प्रवेश द्वार के रूप में विकसित करने के लिए काम कर रहे हैं। त्रिपुरा अब इस क्षेत्र में एक व्यापार गलियारा बनता जा रहा है। रेल/सड़क से जुड़ी कई पहलों ने इस क्षेत्र को बदलना शुरू कर दिया है।

  • मैंने लाल किले से कहा था कि अब हमें योजनाओं के लाभार्थियों तक खुद पहुंचना होगा। मुझे खुशी है कि आज त्रिपुरा ने इस दिशा में बहुत बड़ा कदम उठाया है। जब त्रिपुरा अपने राजत्व के 50 वर्ष पूर्ण कर रहा है, ये संकल्प अपने आप में बहुत बड़ी उपलब्धि है।

  • 1.8 लाख से अधिक गरीबों और जरूरतमंदों को पक्के घर दिए जा रहे हैं। 50,000 से अधिक को पहले ही अपने घर मिल चुके हैं और बड़ी संख्या में लोगों को अपने घरों के लिए पहली किश्त मिल गई है।

  • कोरोना के इस मुश्किल काल में हमारे युवाओं को पढ़ाई का नुकसान न हो, इसके अनेक प्रयास किए गए हैं। कल से देश भर में 15-18 साल के किशोरों के मुफ्त टीकाकरण का अभियान भी शुरु किया गया है। विद्यार्थी निश्चिंत होकर परीक्षाएं दे पाएं, ये आवश्यक है।

  • सुगंधित चावल, अदरक, हल्दी और मिर्च के त्रिपुरा के किसानों के लिए एक बड़ा बाजार इंतजार कर रहा है। राज्य के छोटे किसान अब अपनी उपज को देश के विभिन्न हिस्सों में भेजने के लिए किसान रेल का उपयोग कर रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co