कोरोना स्थिति पर आज फिर CM संग PM की चर्चा- तीसरी लहर को लेकर कही ये बात
कोरोना स्थिति पर आज फिर CM संग PM की चर्चा- तीसरी लहर को लेकर कही ये बातTwitter

कोरोना स्थिति पर आज फिर CM संग PM की चर्चा- तीसरी लहर को लेकर कही ये बात

कोरोना की स्थिति को लेकर कई राज्‍यों के मुख्यमंत्रियों से आज फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बातचीत की और इस दौरान उन्‍होंने ये बात कही...

दिल्‍ली, भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महामारी कोरोना को परास्‍त करने के लिए एक्‍शन में हैं, इस पर नजर रखे हुए हैं और कोरोना की स्थिति को लेकर वे समय-समय पर राज्‍यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा भी कर रहे हैं। आज शुक्रवार को फिर उन्‍होंने कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की है।

इन राज्यों के CM के साथ PM मोदी ने की चर्चा :

कोविड-19 की स्थिति पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इन राज्यों तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, ओडिशा, महाराष्ट्र, केरल के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा की। इस दौरान गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे। PM मोदी ने कहा- बीते डेढ़ वर्ष में देश ने इतनी बड़ी महामारी से मुकाबला आपसी सहयोग और एकजुट प्रयासों से ही किया है। सभी राज्य सरकारों ने जिस तरह एक-दूसरे से सीखने का प्रयास किया है, एक-दूसरे का सहयोग करने की कोशिश की है। हम इस समय एक ऐसे मोड़ पर खड़े हैं जहां तीसरी लहर की आशंका लगातार जताई जा रही है।

मामलों की बढ़ती संख्या चिंताजनक :

मुख्यमंत्रियों से कोविड-19 की स्थिति पर बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ''कुछ राज्यों में मामलों की बढ़ती हुई संख्या अभी भी चिंताजनक बनी हुई है। पिछले हफ़्ते के क़रीब 80% नए मामले आप जिन राज्यों (तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, ओडिशा, महाराष्ट्र, केरल) में हैं, उन्हीं राज्यों से आए हैं। महाराष्ट्र और केरल में मामलों में लगातार इज़ाफ़ा देखने को मिल रहा है।''

विशेषज्ञ बताते हैं कि, लंबे समय तक लगातार मामले बढ़ने से कोरोना वायरस में म्यूटेशन की आशंका बढ़ जाती है, नए वेरिएंट का खतरा बढ़ जाता है, इसलिए तीसरी लहर को रोकने के लिए कोरोना के खिलाफ प्रभावी कदम उठाया जाना आवश्यक है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

इमरजेंसी कोविड रेस्पोंस पैकेज भी किया जारी :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया- देश के सभी राज्यों को नए ICU बेड्स बनाने, टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने और दूसरी सभी जरूरतों के लिए फंड उपलब्ध करवाया जा रहा है। केंद्र सरकार ने हाल ही में, 23,000 करोड़ रूपये से ज्यादा का इमरजेंसी कोविड रेस्पोंस पैकेज भी जारी किया है। मैं चाहूंगा कि इस बजट का उपयोग हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को और मजबूत करने के लिए हो। जो भी infrastructural gapes राज्यों में हैं, उन्हें तेजी से भरा जाए। खासतौर पर ग्रामीण इलाकों पर हमें ज्यादा मेहनत करने की जरूरत है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co