मुंबई वासियों को PM मोदी की बड़ी सौगात
मुंबई वासियों को PM मोदी की बड़ी सौगातSocial Media

मुंबई वासियों को PM मोदी की बड़ी सौगात- करोड़ों की विकास परियोजनाओं का किया उद्घाटन

मुंबई में PM नरेंद्र मोदी ने कहा, आज मुंबई के विकास से जुड़े 40 हजार करोड़ रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास आज यहां हुआ है। ये सब मुंबई शहर को बेहतर बनाए वाले सिद्ध होने वाले है।

महाराष्‍ट्र, भारत। महाराष्‍ट्र के मुंबई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम-स्वनिधि के तहत विकास परियोजनाओं की शुरुआत की, जिससे आम मुंबई वासियों के जीवन को सीधे लाभ पहुंचाने वाली है। यहां उन्‍होंने करीब 38,800 हजार करोड़ की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया। इसके अलावा उन्‍होंने मुंबई मेट्रो की दो लाइनों का भी उद्घाटन किया है।

आज दुनिया को भी भारत के बड़े-बड़े संकल्पों पर भरोसा है :

मुंबई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- आज मुंबई के विकास से जुड़े 40 हजार करोड़ रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास आज यहां हुआ है। ये सब मुंबई शहर को बेहतर बनाए वाले सिद्ध होने वाले हैं। मैं सभी लाभार्थियों और मुंबई के निवासियों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। हमारे यहां तो पिछली सदी का एक लंबा कालखंड सिर्फ और सिर्फ गरीबी की चर्चा करने और दुनिया से मदद मांगने... जैसे तैसे गुजरा करने में ही बीत गया। आज दुनिया को भी भारत के बड़े-बड़े संकल्पों पर भरोसा है।

आजादी के बाद पहली बार न्यू इंडिया के बड़े सपने हैं और उन्हें साकार करने का हौसला है। वरना पिछली सदी का एक लंबा दौर ऐसा रहा है जो गरीबी की चर्चा और विदेशियों से मदद मांगने में खो गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

  • भारत को लेकर दुनिया में इतनी सकारात्मकता इसलिए है क्योंकि आज सभी को लगता है कि भारत अपने सामर्थ्य का बहुत ही उत्तम तरीके से सदुपयोग कर रहा है। आज भारत अभूतपूर्व आत्मविश्वास से भरा हुआ है।

  • गरीबों के कल्याण के लिए आने वाले धन को बिचौलियों द्वारा हड़प लिया जाता था। पिछले 8 वर्षों में हमने इस दृष्टिकोण को हटा दिया है और आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च बढ़ाकर भविष्यवादी सोच के साथ आगे बढ़ रहे हैं। विकसित भारत के निर्माण में हमारे शहरों की भूमिका सबसे अहम है। वर्ष 2014 तक मुंबई में केवल 10-11 किलोमीटर तक मेट्रो चलती थी, लेकिन हमारी डबल इंजन की सरकार ने मेट्रो के काम को अभूतपूर्व गति दी है।

  • दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाएं आज उथल-पुथल में हैं जबकि भारत 80 करोड़ भारतीयों को मुफ्त राशन देना जारी रखे हुए है। वैश्विक मंदी के बीच भी, भारत ने बुनियादी ढांचे में निवेश करना जारी रखा है, जो एक विकसित राष्ट्र होने की दिशा में उसकी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

  • भारत भर के कई शहर भारत की विकास गाथा को शक्ति देने जा रहे हैं। इसलिए मुंबई को भविष्य के लिए तैयार करना डबल इंजन सरकार की प्रतिबद्धताओं में से एक है। आने वाले कुछ वर्षों में मुंबई का कायाकल्प होने जा रहा है। आज सबकुछ ट्रैक पर आ रहा है और इसके लिए मैं शिंदे जी और देवेंद्र जी को बधाई देता हूं।

  • हमारे शहरों में रेहड़ी, ठेले, पटरी पर काम करने वाले साथी, जो शहर की अर्थव्यवस्था का अहम हिस्सा हैं, उनके लिए हमने पहली बार योजना चलाई। हमने इन छोटे व्यापारियों के लिए बैंकों से सस्ता और बिना गारंटी का ऋण सुनिश्चित किया।

  • महाराष्ट्र में भी पांच लाख साथियों के ऋण स्वीकृत हो चुके हैं... यह काम बहुत पहले होना चाहिए था लेकिन बीच के कुछ समय में डबल इंजन की सरकार ना होने के कारण हर काम में अड़ंगे डाले गए और लाभार्थियों को नुकसान उठाना पड़ा। सबके प्रयास की भावना से हम मिलकर मुंबई को विकास की नई ऊंचाई पर ले जाएंगे। मैं अपने रेहड़ी, ठेले, पटरी वालों से कहना चाहता हूं कि आप मेरे साथ चलिए... आप 10 कदम मेरे साथ चलेंगे तो मैं 11 कदम चलूंगा।

  • मुंबई के लिए बेहद जरूरी मेट्रो हो, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस के आधुनिकीकरण का काम हो, सड़कों में सुधार का बहुत बड़ा प्रोजेक्ट हो और बाला साहेब ठाकरे जी के नाम से आपला दवाखाने की शुरुआत हो, ये मुबंई शहर को बेहतर बनाने में बड़ी भूमिका निभाने वाले हैं।

  • आज़ादी के बाद पहली बार आज भारत बड़े सपने देखने और उन्हें पूरा करने का साहस कर रहा है, वरना हमारे यहां तो पिछली सदी का एक लंबा कालखंड सिर्फ गरीबी की चर्चा करना, दुनिया से मदद मांगना, जैसे-तैसे गुजारा करने में ही बीत गया। ये भी आज़ाद भारत के इतिहास में पहली बार हो रहा है जब दुनिया को भी भारत के बड़े-बड़े संकल्पों पर भरोसा है।

  • आज हर किसी को लगता है कि भारत तेजी से विकास और समृद्धि के लिए कुछ जरूरी काम कर रहा है। छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रेरणा से 'स्वराज' और 'सुराज' की भावना आज के हिंदुस्तान में डबल इंजन सरकार में झलकती है। विकसित भारत के निर्माण में हमारे शहरों की भूमिका सबसे अहम है। वर्ष 2014 तक मुंबई में केवल 10-11 किलोमीटर तक मेट्रो चलती थी लेकिन हमारी डबल इंजन की सरकार ने मेट्रो के काम को अभूतपूर्व गति दी है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co