सतर्कता जागरूकता सप्ताह कार्यक्रम में PM मोदी
सतर्कता जागरूकता सप्ताह कार्यक्रम में PM मोदी Social Media

सतर्कता जागरूकता सप्ताह कार्यक्रम में PM मोदी, CVC के नए शिकायत प्रबंधन प्रणाली पोर्टल का किया शुभारंभ

दिल्‍ली में PM मोदी ने केंद्रीय सतर्कता आयोग द्वारा आयोजित सतर्कता जागरूकता सप्ताह कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर उन्‍होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहीं ये बातें...

दिल्ली, भारत। राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में आज गुरूवार को केंद्रीय सतर्कता आयोग द्वारा सतर्कता जागरूकता सप्ताह कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हुए। इस मौके पर PM मोदी ने नैतिकता एवं सदाचार पर पुस्तिकाएं निवारक सतर्कता पहल और केंद्रीय सतर्कता आयोग की समाचार पत्रिका विजआई वाणी का विमोचन किया।

CVC के नए शिकायत प्रबंधन प्रणाली पोर्टल का किया शुभारंभ :

साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केंद्रीय सतर्कता आयोग द्वारा आयोजित सतर्कता जागरूकता सप्ताह कार्यक्रम में CVC के नए शिकायत प्रबंधन प्रणाली पोर्टल का शुभारंभ किया। इसके बाद सतर्कता जागरूकता सप्ताह के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए PM मोदी ने कहा- ये 'सतर्कता सप्ताह' सरदार साहब की जन्म जयंती से शुरू हुआ है। सरदार साहब का पूरा जीवन ईमानदारी, पारदर्शिता और इससे प्रेरित पब्लिक सर्विस के निर्माण के लिए समर्पित रहा। इसी प्रतिबद्धता के साथ सतर्कता को लेकर जागृति का ये अभियान चलाया जा रहा है। 'भ्रष्टाचार मुक्त भारत', इसे 'विकसित भारत' बनाने के संकल्प के लिए सतर्कता जागरूकता सप्ताह मनाया जा रहा है।

हम भारत को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए तीन स्तंभों पर काम कर रहे हैं। पहला है आधुनिक तकनीक का रास्ता; दूसरा, मूलभूत सुविधाओं के संबंध में संतृप्ति स्तर तक पहुंचने का लक्ष्य; तीसरा, आत्मानिर्भारत का मार्ग।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भ्रष्टाचार की और देशवासियों को आगे बढ़ने से रोकने वाली 2 बड़ी वजह :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में यह भी कहा- हमारे देश में भ्रष्टाचार की और देशवासियों को आगे बढ़ने से रोकने वाली दो बड़ी वजह रही है। एक सुविधाओं का आभाव और दूसरा सरकार का अनावश्यक दबाव।

  • बीते 8 वर्षों से अभाव और दबाव से बनी व्यवस्था को बदलने का प्रयास कर रहे हैं, डिमांड और सप्लाई के गैप को भरने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए हमने तीन रास्ते चुने हैं- आधुनिक टेक्नोलॉजी, मूल सुविधाओं के सैचुरेशन का लक्ष्य और तीसरा आत्मनिर्भरता का रास्ता।

  • किसी भी सरकारी योजना के लाभ हर पात्र लाभार्थी तक पहुंचना, सैचुरेशन के लक्ष्यों को प्राप्त करना, समाज में भेदभाव भी समाप्त करता है और भ्रष्टाचार की गुंजाइश को भी खत्म कर देता है। हमारी सरकार द्वारा हर योजना में सैचुरेशन के सिद्धांत को अपनाया है।

  • विभिन्न सरकारी विभागों में जनता के लिए एक स्वस्थ शिकायत निवारण प्रणाली रही है,

    लेकिन अगर हम एक कदम आगे बढ़ते हैं और लोक शिकायत प्रणाली का ऑडिट सुनिश्चित करते हैं, तो हम भ्रष्टाचार के मूल आधार तक पहुंच सकते हैं और उस पर जड़ से हमला कर सकते हैं।

  • जनता-जनार्दन ईश्वर का रूप होती है। वो सत्य को जानती है और मौका आने पर सत्य के साथ खड़ी भी रहती है। इसलिए, चल पड़िए अपनी ड्यूटी को ईमानदारी से निभाने के लिए, ईश्वर आपके साथ चलेगा, जनता-जनार्दन आपके साथ चलेगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co