आत्मनिर्भर अभियान में देश का एक और बड़ा कदम-PM ने शुरू की स्‍वामित्‍व योजना

देश में पीएम मोदी ने आज 'स्वामित्व योजना' शुरु की, इस महात्वाकांक्षी योजना के उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में PM ने कहा-आत्मनिर्भर भारत अभियान में आज देश ने एक और बड़ा कदम उठा दिया है।
आत्मनिर्भर अभियान में देश का एक और बड़ा कदम-PM ने शुरू की स्‍वामित्‍व योजना
आत्मनिर्भर अभियान में देश का एक और बड़ा कदम-PM ने शुरू की स्‍वामित्‍व योजनाSocial Media

दिल्‍ली, भारत। देश में छाए कोराेना संकट काल से जनता परेशान है, इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नई-नई योजना शुरू कर रहे हैं। आज 11 अक्‍टूबर को उन्‍होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देश में एक और महत्वाकांक्षी स्‍कीम 'स्वामित्व योजना' शुरु की है, यह योजना करोड़ो भारतीयों के जीवन में मील का पत्‍थर साबित होगी।

एक लाख प्रॉपर्टी मालिकों को गया SMS :

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज रविवार को स्वामित्व योजना के लिए प्रॉपर्टी कार्ड्स के फिजिकल डिस्ट्रीब्यूशन की शुरुआत की। PM मोदी के एक बटन दबाते ही देशभर के करीब एक लाख प्रॉपर्टी मालिकों को एक SMS गया। उस मैसेज में एक लिंक शामिल है, जिस पर क्लिक कर वह अपना प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

देश ने उठाया एक और बड़ा कदम :

स्वामित्व योजना के उद्घाटन के बाद PM मोदी ने अपने संबोधन में आज जिन एक लाख लोगों को अपने घरों का स्वामित्व पत्र मिला है, जिन्होंने अपना स्वामित्व कार्ड डाउनलोड किया है, उन्हें बधाई दी और कहा, ''आत्मनिर्भर भारत अभियान में आज देश ने एक और बड़ा कदम उठा दिया है। स्वामित्व योजना, गांव में रहने वाले हमारे भाई-बहनों को आत्मनिर्भर बनाने में बहुत मदद करने वाली है।''

PM मोदी ने कहा- आज इतना विराट काम ऐसे दिन हो रहा है, जिसका हिन्दुस्तान के इतिहास में काफी महत्व है। आज दो-दो महापुरुषों की जयंती है। एक भारत रत्न लोकनायक जयप्रकाश नारायण और दूसरे भारत रत्न नानाजी देशमुख। नानाजी कहते थे कि जब गांव के लोग विवादों में फंसे रहेंगे तो न अपना विकास कर पाएंगे और न ही समाज का। इससे समाज में बंटवारा होगा। मुझे विश्वास है, स्वामित्व योजना भी हमारे गांवों में अनेकों विवादों को समाप्त करने का बहुत बड़ा माध्यम बनेगी।

पूरे विश्व के बड़े-बड़े एक्सपर्ट्स इस बात पर जोर देते रहे हैं कि जमीन और घर के मालिकाना हक की, देश के विकास में बड़ी भूमिका होती है। जब संपत्ति का रिकॉर्ड होता है, जब संपत्ति पर अधिकार मिलता है तो नागरिकों में आत्मविश्वास बढ़ता है। दुनिया में एक तिहाई आबादी के पास ही कानूनी रूप से अपनी संपत्ति का रिकॉर्ड है, पूरी दुनिया में दो तिहाई लोगों के पास ये नहीं है। ऐसे में भारत जैसे विकासशील देश के लिए ये बहुत जरूरी है कि लोगों के पास उनकी संपत्ति का सही रिकॉर्ड हो।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

PM मोदी द्वारा कही गईं प्रमुख बातें :

  • शौचालय, बिजली की परेशानी गांवों में थी, लकड़ी के चूल्हे में खाना बनाने की मजबूरी गांवों में थी। वर्षों तक जो लोग सत्ता में रहे उन्होंने बातें तो बहुत बड़ी-बड़ी कीं, लेकिन गावों के लोगों को उनके नसीब पर छोड़ दिया। मैं ऐसा नहीं होने दे सकता।

  • पिछले 6 वर्षों में पुरानी कमी को दूर करने के लिए लगातार काम किया जा रहा है। आज देश में बिना किसी भेदभाव, सबका विकास हो रहा है, पूरी पारदर्शिता के साथ सबको योजनाओं का लाभ मिल रहा है।

  • गांव के लोगों को, गरीबों को अभाव में रखना कुछ लोगों की राजनीति का आधार रहा है। आजकल इन लोगों को कृषि में जो ऐतिहासिक सुधार किए गए हैं, उससे भी दिक्कत हो रही है, वो बौखलाए हुए हैं। इनकी ये बौखलाहट किसानों के लिए नहीं, खुद के लिए है।

  • छोटे किसानों, पशुपालकों, मछुआरों को किसान क्रेडिट कार्ड मिलने से जिनकी काली कमाई का रास्ता बंद हो गया है, उनको आज समस्या हो रही है। किसानों के बैंक खाते में सीधा पैसा पहुंचने से जिनको परेशानी हो रही है, वो आज बेचैन हैं।

  • किसान और खेत मजदूर को मिल रही बीमा, पेंशन जैसी सुविधाओं से जिनको परेशानी है, वो आज कृषि सुधारों के विरोध में हैं, लेकिन किसान उनके साथ जाने के लिए तैयार नहीं है, किसान उनका सच जान गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co