तीसरी लहर से लड़ने की तैयारी तेज-PM ने जल्द से जल्द यह काम करने के दिए आदेश
तीसरी लहर से लड़ने की तैयारी तेज-PM ने जल्द से जल्द यह काम करने के दिए आदेशTwitter

तीसरी लहर से लड़ने की तैयारी तेज-PM ने जल्द से जल्द यह काम करने के दिए आदेश

देश में मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता से जुड़े मुद्दों पर PM मोदी ने हाईलेवल मीटिंग की। इस दौरान अधिकारियों ने PM मोदी को देश भर में PSA ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना की प्रगति के बारे में जानकारी दी।

दिल्‍ली, भारत। देश में कोरोना की दूसरी लहर ने इस तरह आतंक मचाया कि, स्वास्थ्य व्‍यवस्‍थाएं चरमरा गई थीं, ऑक्‍सीजन की काफी किल्लत हुई थी। इस बीच अब कोरोना की तीसरी लहर की अशंकाओं के बीच केंद्र की मोदी सरकार एक्‍शन मोड में आकर तैयारियां तेज कर दी है और आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता से जुड़े मुद्दों पर वर्चुअली समीक्षा मीटिंग की।

1500 से अधिक PSA ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं:

आज शुक्रवार को इस हाईलेवल मीटिंग में अधिकारियों ने PM नरेंद्र मोदी को देश भर में पीएसए ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना की प्रगति के बारे में जानकारी दी। इस दौरान PM मोदी ने बताया- देश में 1500 से अधिक PSA ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। इन ऑक्सीजन प्लांट्स के जरिए 4 लाख से अधिक ऑक्सीजन बेड को सपोर्ट मिलेगा। प्लांट जल्द से जल्द काम करने लगें, इसके लिए जरूरी इंतजाम किए जाएं।

हॉस्पिटल स्टॉक बढ़ाने पर भी चर्चा :

पीएम मोदी ने इस मीटिंग में मेडिकल ऑक्सीजन का प्रोडक्शन और हॉस्पिटल स्टॉक बढ़ाने के लिए जरूरी कदम पर भी चर्चा की। साथ ही PM मोदी ने कहा- केंद्र सरकार के अधिकारियों को इसके लिए राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम करना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए की-

  • ऑक्सीजन प्लांट्स के संचालन और उसके रखरखाव के लिए अस्पताल के कर्मचारियों को प्रॉपर ट्रेनिंग दी जाए, ताकि जरूरत के समय किसी भी तरह की दिक्कत से निपटा जा सके।

  • इस्तेमाल किए जाने वाले ऑक्सीजन प्लांट्स की परफॉर्मेंस और फंक्शनिंग को ट्रैक करने के लिए एडवांस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

  • इसके अलावा PM मोदी ने तीसरी लहर से पहले सभी व्यवस्था दुरुस्त करने को भी कहा है।

  • तो वहीं, अधिकारियों ने प्रधानमंत्री को बताया कि, ऑक्सीजन संयंत्रों की फास्ट-ट्रैकिंग के संबंध में वे राज्य सरकारों के अधिकारियों के साथ नियमित संपर्क में हैं।

बता दें कि, देश में कोरोना की दूसरी लहर आई थी, उस दौरान बड़े पैमाने पर कोरोना के केस मिले थे एवं ऑक्सीजन का भी संकट आ गया था, मरीजों को समय पर ऑक्सीजन न मिल पाने के कारण कई मरीजों की मौत भी हो गई थीं। यहीं नहीं बल्कि, मेडिकल ऑक्सीजन, वेंटिलेटर बेड्स आदि तक की कमी पड़ गई थी। इसी के चलते इसके चलते सरकार को भी काफी आलोचना का सामना करना पड़ा था, लेकिन इस बार सरकार ने कोरोना की तीसरी लहर के आने से पहले ही इस लहर से लड़ने की तैयारी तेज कर दी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co