PM मोदी ने Omicron के लिए मुख्यमंत्रियों को किया आगाह, कहा-कोरोना से न डरें, डटे रहें
PM मोदी ने Covid-19 से बचाव के लिए राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में चर्चा की।- Social Media

PM मोदी ने Omicron के लिए मुख्यमंत्रियों को किया आगाह, कहा-कोरोना से न डरें, डटे रहें

कोविड-19 (Covid-19) के नए घातक वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) से बचाव के लिए भारत के प्रदेशों में बरते जाने वाले एहतियात पर पीएम नरेंद्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से व्यापक चर्चा की।

हाइलाइट्स

  • Covid-19 स्थिति पर चर्चा

  • मुख्यमंत्रियों को दिये अहम निर्देश

  • ओमिक्रॉन से निपटने बनाई रणनीति

राज एक्सप्रेस। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार शाम भारत के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ कोविड-19 पर देश के हालात पर अहम चर्चा की। सामूहिक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई मीटिंग में पीएम ने मुख्यमंत्रियों के साथ उनके राज्यों में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए की जा रही तैयारियों पर मंथन किया। कोरोना वायरस की रोकथाम से जुड़ी इस खास बैठक में गृह मंत्री अमित शाह की भी मौजूदगी रही।

मुख्यमंत्रियों से मुखातिब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओमिक्रॉन वैरिएंट का पुराने वैरिएंट्स की तुलना में तेजी से प्रसार होने के कारण मुख्यमंत्रियों को इसके रोकथाम की चेतावनी दी। उन्होंने चेताया कि ओमिक्रॉन अपनी संभावना से भी अधिक संक्रामक सिद्ध हो रहा है।

इस बीच उन्होंने स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा रखी जा रही हालात पर नजर पर भी जानकारी दी। उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्रियों को सतर्कता बरतने और आमजनता में भय का माहौल न बने इस बात का ख्याल रखने का भी सुझाव दिया।

पीएम मोदी ने कहा, सौ सालों में सबसे बड़ी महामारी साबित हुई बीमारी से भारत की लड़ाई तीसरे साल में प्रवेश कर रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि; मेहनत ही हमारा एकमात्र पथ है और विजय एकमात्र विकल्प है। उन्होंने उम्मीद जताई की भारतीय जनमानस अपनी कोशिश से कोरोना को हराएगा और जीतकर दिखाएगा।

सौ फीसद टीकाकरण की जरूरत -

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ओमिक्रॉन से जुड़ी संशय की स्थिति अब साफ होती जा रही है। कोविड-19 के पुराने वैरिएंट्स की तुलना में ओमिक्रॉन का प्रसार काफी तेज गति से हो रहा है। भारतीय स्वास्थ्य विशेषज्ञ महामारी के असर का आंकलन कर रहे हैं। ऐसे में हम सभी को सतर्क रहना होगा।

पीएम ने कहा कि भारत की लगभग 92% वयस्क जनसंख्या को कोविड वैक्सीन की पहली डोज मिल चुकी है। दूसरी खुराक की स्थिति भी 70% के करीब है। 10 दिनों के भीतर भारत में करीब 3 करोड़ किशोर आयु वर्ग का टीकाकरण किया गया है।

पर्याप्त वैक्सीन -

पीएम ने कहा कि राज्यों के पास वर्तमान में पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध है। साथ ही पहली पंक्ति के कार्यकर्ता और वरिष्ठ नागरिकों को 'प्रिकॉशन डोज' जितनी जल्द लगे हमें इस बारे में हमें प्रयास करना होगा। प्रधानमंत्री मोदी ने शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिए हर घर दस्तक अभियान में और गति लाने की जरूरत बताई।

आयुर्वेद मददगार -

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओमिक्रॉन के साथ ही भविष्य में किसी और तरह के वैरिएंट से बचाव के लिए तैयार रहने की जरूरत की बात पर बल दिया। उन्होंने आयुर्वेदिक एवं घरेलू पारंपरिक उपायों को भी मददगार बताया। मुख्यमंत्रियों को उन्होंने कोविड के प्रसार की रोकथाम के लिए रणनीति बनाते समय अर्थव्यवस्था और आमजन के रोजगार की रक्षा का ध्यान रखने को कहा।

मुख्यमंत्रियों ने क्या कहा? -

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने टीकाकरण अभियान के विभिन्न प्रयासों के बारे में जानकारी दी। पंजाब के मुख्यमंत्री ने मरीजों के लिए ऑक्सीजन की जरूरत के समाधान के लिए प्रदान की गई चिकित्सा राहत राशि के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने संक्रमितों की संख्या के बढ़ने पर संक्रमण प्रसार रोकने किए गए उपायों की जानकारी दी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने आगामी त्योहारों में संक्रमण रोकने के लिए की गईं तैयारियों के बारे में बताया। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने कोविड से लड़ाई में केंद्र साथ मिलकर लड़ने की बात कही।

झारखंड के मुख्यमंत्री ने ग्रामीण और आदिवासी इलाकों में व्याप्त गलत धारणाओं के कारण कोरोना वैक्सीन लगाने के मिशन में आई समस्या के बारे में पीएम को अवगत कराया।

असम के मुख्यमंत्री ने प्रीकॉशन डोज को आत्मविश्वास में वृद्धि का कारक बताया। मणिपुर के मुख्यमंत्री ने इस दिशा में किए जा रहे निरंतर प्रयासों की जानकारी दी।

डिस्क्लेमर आर्टिकल मीडिया एवं एजेंसी रिपोर्ट्स पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त जानकारी जोड़ी गई हैं। इसमें प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co