PM नरेंद्र मोदी ने बिल गेट्स से की चर्चा और मांगे सुझाव
PM नरेंद्र मोदी ने बिल गेट्स से की चर्चा और मांगे सुझाव|Social Media
भारत

PM नरेंद्र मोदी ने बिल गेट्स से की चर्चा और मांगे सुझाव

PM नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के अध्यक्ष बिल गेट्स के साथ कई अहम मुद्दों पर चर्चा की है और सुझाव मांगे।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्‍सप्रेस। देश में फैली कोरोना वायरस की महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ न कुछ रणनीति में जुटे ही हुए हैं और सुझाव मांगे जाने का दौर जारी है। अब PM मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के अध्यक्ष बिल गेट्स के साथ कई अहम मुद्दों पर चर्चा की है।

PM ने इन विषयों पर की बात :

प्रधानमंत्री मोदी ने कोविड-19 के लिये वैश्विक प्रतिक्रिया और महामारी का मुकाबला करने के लिये वैज्ञानिक नवाचार और शोध एवं अनुसंधान संबंधित विषयों पर बात की। बिल गेट्स के साथ इस बातचीत में प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिये भारत द्वारा अपनाए गए सचेत दृष्टिकोण को रेखांकित किया। साथ ही उन्होंने यह बताया कि, इस जन-केंद्रित दृष्टिकोण ने शारीरिक दिक्कतों के लिए स्वीकार्यता, फ्रंट-लाइन कार्यकर्ताओं के प्रति सम्मान, मास्क पहनने, उचित स्वच्छता बनाए रखने और लॉकडाउन प्रावधानों का सम्मान करने में मदद की है।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरकार के पिछली विकास संबंधी कुछ पहलों को शामिल किये जाने पर प्रकाश डाला। वित्तीय समावेशन का विस्तार करना, स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करना, स्वच्छ भारत मिशन के माध्यम से स्वच्छता मिशन को लोकप्रिय बनाना, लोगों की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए भारत के आयुर्वेदिक ज्ञान का उपयोग करना आदि। कोरोना महामारी के प्रति भारत की प्रतिक्रिया के प्रभाव को बढ़ाने में मदद की।

मोदी ने गेट्स से मांगे सुझाव :

प्रधानमंत्री ने गेट्स फाउंडेशन के वैश्विक स्तर पर कोविड-19 से लड़ने के लिये किये जा रहे प्रयासों की सराहना की और बिल गेट्स से इस कड़ी में भारत की क्षमताओं को दुनिया के लाभ के लिए बेहतर ढंग से प्रयोग में लाने के लिये सुझाव मांगे। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने भी सुझाव दिया कि, गेट्स फाउंडेशन जीवनशैली, आर्थिक संगठन, सामाजिक व्यवहार, शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा के प्रसार के आवश्यक परिवर्तनों का विश्लेषण करने का नेतृत्व कर सकता है।

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co