Raj Express
www.rajexpress.co
नारी गरिमा की रक्षा ?
नारी गरिमा की रक्षा ?|Syed Dabeer Hussain - RE
भारत

नारी गरिमा की बात करने वाली पार्टी में ही हैं, दोहरे चेहरे

महिलाओं के सम्मान में जहां बीजेपी के कई नेता उच्च विचार रखते हैं, वहीं उसी पार्टी के कुछ नेता हैं जो कि महिलाओं की इज्जत के साथ खिलवाड़ भी करते हैं।

Megha Sinha

राज एक्सप्रेस: 17 सितंबर को दिल्ली के कामिनी ऑडिटॉरियम में शुरू हुए रामायण महोत्सव का आज समापन होने वाला है, 18 सितंबर को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में इस महोत्सव का उद्घाटन किया था। बीजेपी के वरिष्ठ नेता अमित शाह ने हिंन्दू महाकाव्य रामायण को संबोधित करते हुए कई प्रेरणादायक बातें की, जिसमें उन्होंने कहा कि रामायण में सभी समस्याओं का सामाधान मौजूद है।

अमित शाह ने रामायण का उल्लेख करते हुए कहा कि रामायण कहती है कि "अगर किसी स्त्री के सम्मान की रक्षा के लिए यदि युद्ध भी लड़ना पड़े तो बेहिचक लड़ा जाए"। उन्होंने कहा कि ‘मैं सभी को एक बार रामायण पढ़ने के लिए कहना चाहता हूं”। यदि वे ऐसा करते हैं, तो वे अपनी व्यक्तिगत, सामाजिक और राष्ट्रीय समस्याओं का समाधान पा सकते हैं। सभी सांसारिक समस्याओं का समाधान इस महाकाव्य में मौजूद हैं।

अगर हम गौर करें, रामायण के उल्लेख में कही गयीं, अमित शाह की बातों पर तो ये बात वाकई दिल को छूने वाली हैं कि अगर कोई भी व्यक्ति किसी भी महिला के सम्मान को ठेस पहुंचाने की कोशिश करेगा तो उसके लिए युद्ध करने की भी जरूरत पड़े तो जरूर करना चाहिए। परंतु जो देश के हालात हैं महिलाओं को लेकर वो अमित शाह के रामायण उल्लेखनीय वाक्य से बिल्कुल ही विपरीत हैं।