अब्दुल कलाम की जयंती पर राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति ने किया नमन
President and Vice President pay tribute on Abdul Kalam's birth anniversarySocial Media

अब्दुल कलाम की जयंती पर राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति ने किया नमन

देश में मिसाइलमैन के रूप में जाने जाने वाले पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की जयंती पर उन्हें कई दिग्गज नेताओं सहित राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने स्मरण और नमन किया है।

राज एक्सप्रेस। देश में कई ऐसे दिग्गज नेता रहे हैं। उन्हें या उनके द्वारा किए गए कामों को जिंदगी भर भूल पाना बहुत मुश्किल है। ऐसे ही एक दिग्गज नेता हैं जिन्हे, देश में मिसाइलमैन के रूप में जाना जाता था और वह कोई और नहीं बल्कि, भारत के पूर्व राष्ट्रपति ए.पी.जे. अब्दुल कलाम हैं। आज कलाम जी की जयंती है। उनकी जयंती पर उन्हें कई दिग्गज नेताओं सहित राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने स्मरण और नमन किया हैं।

डॉ. कलाम की जयंती :

बताते चलें, डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को रामेश्वरम् में हुआ था। उनका निधन 27 जुलाई 2015 को शिलांग में हुआ था। भारत राष्ट्रीय विकास के प्रति कलाम के अमिट योगदान को कभी नहीं भूल पाएगा। वह देश के 11वें राष्ट्रपति होने के साथ ही मिसाइलमैन भी थे, उन्हें का मिसाइलमैन का नाम उनके द्वारा किए गए कार्यो के लिए दिया गया। डॉ. कलाम को एक विजनरी नेता, भारत के स्पेस और मिसाइल प्रोग्राम को गढ़ने वाले वैज्ञानिक के तौर पर भी जाना जाता है। उनकी जयंती पर आज प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रपति कोविंद, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई दलों के नेताओं ने उन्हें याद किया।

राष्ट्रपति ने दी कलाम को श्रद्धांजलि :

भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल की जयंती पर राष्ट्रपति कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में डॉ. ए.पी.जे को पुष्पांजलि अर्पित की।

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने दी कलाम को श्रद्धांजलि :

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने मिसाइलमैन पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम को उनकी जन्म जयंती पर भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की है। श्री नायडू ने कहा, 'उन्होंने भारत की रक्षा प्रणाली मजबूत करने और अंतरिक्ष क्षमताओं के विकास में अमूल्य योगदान दिया। डॉ. कलाम हमेशा प्रत्येक भारतीय के प्रेरणा स्रोत रहेंगे। श्री नायडू ने गुरुवार को एक ट्वीट में कहा कि

सपना, सपना, सपना। सपने विचारों में बदल जाते हैं और विचारों के परिणामस्वरूप कार्रवाई होती है। - डाक्टर ए.पी.जे. अब्दुल कलाम मैं आज उनकी जयंती पर पीपुल्स प्रेसिडेंट ’डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। वह सादगी और ज्ञान के प्रतीक थे।
एम वेंकैया नायडू, उपराष्ट्रपति

श्री नायडू ने डाक्टर कलाम के प्रसिद्ध प्रेरणा कथन को दोहराते हुए अपने अगले ट्वीट में कहा,

''अगर सूरज की तरह चमकना है तो पहले सूरज की तरह तपना सीखो...... देश के पूर्व राष्ट्रपति, राष्ट्र के प्रबुद्ध विचार नायक, युवाओं के प्रेरणास्रोत और प्रख्यात वैज्ञानिक डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम जी की जन्म जयंती पर मनीषी विचारक के यश को सादर नमन करता हूं।"
एम वेंकैया नायडू, उपराष्ट्रपति

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co