डिजिटल इंडिया अवार्ड 2020 समारोह में राष्ट्रपति कोविंद का संबोधन
डिजिटल इंडिया अवार्ड 2020 समारोह में राष्ट्रपति कोविंद का संबोधनTwitter

डिजिटल इंडिया अवार्ड 2020 समारोह में राष्ट्रपति कोविंद का संबोधन

डिजिटल इंडिया अवार्ड 2020 के समारोह में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने डिजिटल गवर्नेंस के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले लोगों को डिजिटल इंडिया पुरस्कार प्रदान किए। इसके बाद अपने संबोधन में कहा..

दिल्ली, भारत। दो साल के बाद होने वाला 'डिजिटल इंडिया पुरस्कार' समारोह आज 30 दिसंबर को डिजिटल माध्‍यम से हो रहा है और ऐसा पहली बार है जब डिजिटल इंडिया पुरस्कार की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन हो रही है।

राष्ट्रपति ने प्रदान किए डिजिटल इंडिया पुरस्कार :

डिजिटल इंडिया अवार्ड 2020 के इस समारोह में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल हुए। इस दौरान राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद आभासी तरीके से डिजिटल गवर्नेंस के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले लोगों को डिजिटल इंडिया पुरस्कार प्रदान किए।

भारत को डिजिटल महाशक्ति बनाना हमारा दृष्टिकोण :

इस दौरान अपने संबोधन में राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि, ''डिजिटल इंडिया अवार्ड्स नागरिकों को उनकी आकांक्षाओं को प्राप्त करने और भारत को डिजिटल महाशक्ति बनाने के लिए सशक्त बनाने के लिए सरकार के समग्र दृष्टिकोण को दर्शाता है। ये साल अब समाप्त होने वाला है और हमें उम्मीद है कि महामारी भी जल्द ही समाप्त हो जाएगी। यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगी कि, कोरोना वायरस ने सामाजिक संबंधों, आर्थिक गतिविधियों, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा और जीवन के कई अन्य पहलुओं के मामले में दुनिया को बदल दिया है।''

भारत न केवल गतिशीलता-प्रतिबंधों के प्रतिकूल प्रभाव को कम करने के लिए तैयार था, बल्कि विभिन्न अखाड़ों में आगे बढ़ने के अवसर के रूप में संकट का भी उपयोग किया। यह केवल इसलिए संभव हो पाया क्योंकि हाल के वर्षों में डिजिटल बुनियादी ढांचे को मजबूत किया गया है। तकनीकी विकास को अक्सर 'व्यवधान' के रूप में जाना जाता है, लेकिन इस साल उन्होंने हमें बड़े व्यवधान को काफी हद तक दूर करने में मदद की।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद

हमारे जीवन में एक महत्वपूर्ण कदम डिजिटल समावेश है :

राष्ट्रपति ने कहा कि, ''सरकार के लिए भी सूचना प्रौद्योगिकी नागरिकों को विभिन्न प्रकार की सेवाएं प्रदान करने और अर्थव्यवस्था के पहियों को मोड़ने के लिए सबसे महत्वपूर्ण उपकरणों में से एक था। मजबूत आईसीटी प्रवेश के कारण हमारे जीवन में एक महत्वपूर्ण कदम डिजिटल समावेश है। इस डिजिटल समावेश ने हमारे जीवन को इंटरनेट, इंटरनेट बैंकिंग या यूनीफाइड पेमेंट इंटरफेस या यूपीआई के माध्यम से भुगतान के रूप में सबसे सरल तरीकों से छुआ है क्योंकि यह लोकप्रिय है।''

बता दें कि, डिजिटल इंडिया पुरस्कार से उन्‍हीं लोगों को सम्‍मानित किया जाता है, जिनका डिजिटल प्रशासन में उल्लेखनीय पहल और व्यवहार है। इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय (MeitY) के तहत राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (NIC) ई-गवर्नेंस और सरकारी सेवा वितरण तंत्र के डिजिटल परिवर्तन में नवाचार को बढ़ावा देने के लिए द्विवार्षिक डिजिटल इंडिया अवार्ड का आयोजन किया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co