प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भिखारी राजू के हुए मुरीद
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भिखारी राजू के हुए मुरीद|Social Media
भारत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भिखारी राजू के हुए मुरीद

पंजाब के पठानकोट जिला के एक भिखारी राजू ने मानवता की शानदार मिशाल पेश करते हुए अपने भीख मांगकर जुटाए पैसे से गरीबों-बेसहारा लोगों को राशन बांट कर प्रधानमंत्री मोदी को भी अपना मुरीद बना लिया है।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने कार्यक्रम 'मन की बात' में इस भिखारी की जमकर तारीफ की है। पीएम मोदी ने 'मन की बात 2.0' की 12वीं कड़ी में अपने संबोधन में भिखारी राजू द्वारा की जा रही जन सेवा के कार्यो की प्रशंसा करते हुए कहा कि दूसरों की सेवा में लगे व्यक्ति के जीवन में, कोई अवसाद या तनाव, कभी नहीं दिखता। उसके जीवन में, जीवन को लेकर उसके नजरिए में, भरपूर आत्मविश्वास, सकारात्मकता और जीवंतता प्रतिपल नजर आती है। उन्होंने कहा कि पंजाब के पठानकोट से भी एक ऐसा ही उदाहरण मुझे पता चला। जहां गरीबों के लिए मसीहा बनने वाले इस शख्स का नाम राजू है। जो दिव्यांग है और वह भीख मांग अपना गुजारा करता है। राजू अब तक 100 गरीब परिवारों को एक महीने का राशन और 3000 मास्क बांट चुका है।

भिखारी राजू चौक चौराहों में भीख मांग कर अपना जीवन निर्वाह करने के साथ ही वह मांगी गई राशि से जनसेवा भी करता रहता है। असर्मथ होने के बावजूद राजू दिल का राजा है और बड़ी सोच का मालिक है। वह हमेशा ज़रूरतमंदों के लिए आगे आता है। पठानकोट के बहुत से लोग राजू को उसके कार्यों की वजह से पहचानते हैं और मदद भी करते हैं।

बता दें कि बचपन से ही दिव्यांग राजू भीख माँग कर पैसे इकट्ठा करता है और फिर उसे नेक काम में लगाता है। उसके माता पिता बचपन में ही मर गए थे। उसके तीन भाई और तीन बहनें हैं, परन्तु दिव्यांग होने के कारण उसे बेसहारा छोड़ दिया गया। सड़क पर भिक्षा मांगने के अलावा जीने का कोई साधन नहीं था लिहाजा उसने भीख मांगना शुरू कर दिया। भाई बहनों का प्यार नहीं मिलने से वह निराश तो हुआ था लेकिन उसने समाज सेवा में ही अपनी खुशी ढूंढ ली। एक बार पठानकोट नगर निगम द्वारा खोदे गए गहरे खड्डे में एक आवारा सांड गिर गया था जिसे राजू ने बाहर निकलवाया था।

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co