केंद्रीय विद्यालयों में प्राचार्यों को नहीं मिलेगा ग्रीष्मावकाश का कोई लाभ
केवी के प्राचार्यों को नहीं मिलेगा ग्रीष्मावकाश का कोई लाभसांकेतिक चित्र

केंद्रीय विद्यालयों में प्राचार्यों को नहीं मिलेगा ग्रीष्मावकाश का कोई लाभ

सरकार द्वारा कैलेंडर के अनुसार ग्रीष्म अवकाश जरूर घोषित किया गया हो, लेकिन केंद्रीय विद्यालय और सीबीएसई स्कूलों में प्राचार्य सहित अन्य शिक्षकों को यह लाभ नहीं मिलेगा।

भोपाल, मध्यप्रदेश। सरकार द्वारा कैलेंडर के अनुसार ग्रीष्म अवकाश जरूर घोषित किया गया हो, लेकिन केंद्रीय विद्यालय और सीबीएसई स्कूलों में प्राचार्य सहित अन्य शिक्षकों को यह लाभ नहीं मिलेगा। कारण यह है कि जून के दूसरे सप्ताह तक इन विद्यालयों में 10वीं एवं 12वीं की परीक्षाएं संपादित होंगी। 1 मई से केन्द्र और राज्य के स्कूलों में शिक्षकों और बच्चों का ग्रीष्म अवकाश शुरू हुआ था।

निजी सीबीएसई स्कूल सहित केंद्रीय विद्यालयों में 27 अप्रैल से दसवीं बारहवीं की परीक्षाएं प्रारंभ कराई गई थी। यह परीक्षा 16 जून तक संपादित होना है। अब जबकि 1 मई से विद्यालयों में ग्रीष्म अवकाश दिया गया है। केंद्रीय विद्यालयों में प्राचार्यो का कहना है कि परीक्षाओं के साथ-साथ मूल्यांकन का कार्य भी प्रारंभ हो गया है। नतीजतन 10वीं 12वीं पढ़ाने वाले शिक्षकों के साथ-साथ प्राचार्य को ग्रीष्म अवकाश का कोई लाभ नहीं मिलेगा। इसके अलावा 15 जून से शिक्षा का नया सत्र प्रारंभ हो रहा है। सत्र की तैयारियां भी इसी दौरान करवाना उनके लिए चुनौती है। इधर निजी सीबीएसई स्कूलों के सहोदय ग्रुप का कहना है कि सत्र प्रारंभ होने के बाद भी अनेक चुनौतियां सामने हैं। ग्रुप के वाइस प्रेसीडेंट पीके पाठक का कहना है कि सत्र प्रारंभ होने के साथ नीट सहित अन्य एग्जाम हैं। उन्हें संपादित करवाना भी प्राचार्यों की जवाबदारी पर टिका हुआ है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co