संसद का शीतकालीन सत्र टलने पर भड़की प्रियंका, सरकार को खड़ा किया कटघरे में
प्रियंका ने सरकार को घेराSyed Dabeer Hussain - RE

संसद का शीतकालीन सत्र टलने पर भड़की प्रियंका, सरकार को खड़ा किया कटघरे में

नई दिल्ली : संसद का शीतकालीन सत्र बार-बार टलने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का फूटा गुस्सा, प्रियंका गांधी ने सरकार को कटघरे में खड़े करते हुए कही ये बड़ी बात।

नई दिल्ली। देशभर में जहां कोरोना का संकट थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं इस बीच इस बार संसद का शीतकालीन सत्र नहीं बुलाया जाएगा, बता दें कि सरकार ने ऐलान किया है कि कोरोना के कारण इस बार संसद के शीतकालीन सत्र का आयोजन नहीं किया जाएगा, संसद का शीतकालीन सत्र बार-बार टलने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का फूटा गुस्सा, प्रियंका गांधी ने सरकार को कटघरे में खड़े करते हुए कही ये बड़ी बात।

प्रियंका ने सरकार को घेरा :

मिली जानकारी के मुताबिक एक बार फिर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सरकार को घेरा, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने संसद का शीतकालीन सत्र आयोजित नहीं करने पर सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए गुरुवार को कहा कि वह पूंजीपति मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए संसद सत्र आयोजित करती है लेकिन किसानों की समस्या पर बात नहीं हो, इसलिए शीतकालीन सत्र टाल देती है।

संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर कही ये बड़ी बात :

इस मामले को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि सरकार ने मानसून सत्र कोरोना संकट के बीच चलाया और अपने पूंजीपति मित्रों को फायदा देने के लिए तीन कृषि कानून पारित कराए। किसान इन कानूनों में की गई व्यवस्था के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं लेकिन सरकार आंदोलन खत्म करने के लिए ना उनसे बातचीत कर रही है और ना ही संसद का शीतकालीन सत्र बुला रही है।

प्रियंका गांधी वाड्रा ने किया ट्वीट

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीकर कहा- कोरोना काल के बीच में संसद चलाकर भाजपा सरकार ने अरबपति मित्रों के लिए बनाए गए कृषि कानूनों को पास कर दिया लेकिन किसानों की मांग पर, 11 किसानों की शहादत व बाबा राम सिंह की आत्महत्या के बावजूद किसान बिलों पर चर्चा के लिए संसद नहीं खुल सकती, इतना ज्यादा अहंकार और असंवेदनशीलता!

कोविड-19 के कारण नहीं हो रहा संसद का शीतकालीन सत्र :

आपको बताते चलें कि कांग्रेस की ओर से किसानों के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए सत्र की मांग की गई थी, इसके अलावा विपक्ष के कई अन्य दल भी किसानों के मुद्दों को लेकर सत्र की मांग कर रहे थे लेकिन इस बीच कोरोना वायरस का असर पूरी दुनिया पर देखने को मिल रहा है, देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है, इसलिए सरकार ने ऐलान करते हुए कहा कि कोविड-19 के कारण इस बार संसद के शीतकालीन सत्र का आयोजन नहीं होगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co