कृषि कानून के खिलाफ पंजाब-कर्नाटक में प्रदर्शन, धरने पर बैठे CM अमरिंदर
#FarmersProtest : किसानों के कृषि कानून के खिलाफ हल्लाबोल तेज होता जा रहा है, अब पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह कृषि कानून के खिलाफ धरने पर बैठे, तो वहीं कर्नाटक में भी विरोध प्रदर्शन हो रहा।
कृषि कानून के खिलाफ पंजाब-कर्नाटक में प्रदर्शन, धरने पर बैठे CM अमरिंदर
कृषि कानून के खिलाफ पंजाब-कर्नाटक में प्रदर्शन, धरने पर बैठे CM अमरिंदरPriyanka Sahu -RE

#FarmersProtest : देशभर में किसानों के कृषि कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन तेज होता जा रहा है, दिल्ली, पंजाब एवं कर्नाटक में इस कानून को लेकर हल्लाबोल जारी है।

धरने पर बैठे CM अमरिंदर सिंह :

कृषि कानून के खिलाफ पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह शहीद-ए-आजम भगत सिंह की जयंती पर उनके पैतृक गांव खटकर कलां में धरने पर बैठे हैं। इस दौरान उनके साथ प्रदेश प्रभारी हरीश रावत, प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़, समेत राज्य के सभी मंत्री मौजूद हैं।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नए कृषि विधेयकों को राष्ट्रपति की ओर से मंजूरी देने को निंदनीय और दुखदायक करार देते हुए कहा कि, ''राष्ट्रपति ने इस संबंध में कांग्रेस और अन्य विरोधी पार्टियों का पक्ष सुने बिना यह फैसला लिया है। इन कानूनों से किसानों का बहुत नुकसान होगा।''

पंजाब के लिए किसानी लाइफ लाइन है और वह किसानों के हित के लिए आखिरी दम तक लड़ेंगे। कृषि कानून असांविधानिक, अलोकतांत्रिक और किसान विरोधी है।

कैप्टन अमरिंदर सिंह, पंजाब के मुख्यमंत्री

अमरिंदर सिंह ने पूछा :

कृषि कानून के खिलाफ तल्ख तेवर अपनाए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पूछा कि, यदि कृषि कानून किसानों के हित में हैं तो फिर वे सड़कों पर प्रदर्शन क्यों कर रहे हैं? साथ ही उन्होंने किसान मूर्ख नहीं हैं। यदि किसानों की नजर में ये कानून उनके हितों को नुकसान पहुंचाते वाले न होते तो वे महामारी के बावजूद दिल्ली की ओर न बढ़ते।

कर्नाटक में भी हो रहा विरोध प्रदर्शन :

वहीं, पंजाब के अलावा कर्नाटक के राज्य रायथा संघ, हसीरू सेने और अन्य संगठनों ने बंगलूरू में सर पुत्तन्ना चेट्टी टाउन हॉल के सामने भी इन कानून का विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है एवं कर्नाटक में कृषि कानून, भूमि सुधार अध्यादेश, एपीएमसी और श्रम कानूनों में संशोधन के खिलाफ किसानों के संगठनों ने आज राज्यव्यापी बंद का आह्वान किया। राज्यव्यापी बंद के बीच एक बस को रोकने के लिए हुबली में प्रदर्शनकारी सड़क पर बैठ गए।

ट्रैक्टर जलाने वाले 5 लोग गिरफ्तार :

इसके अलावा आज सुबह-सुबह दिल्‍ली में इंडिया गेट के सामने किसान कानून के विरोध में ट्रैक्टर अग्निकांड का मामला सामने आया था। यहां, एक ट्रैक्टर को आग के हवाले किया था। इसी मामले पर पंजाब के 5 लोगों को प्रदर्शन और ट्रैक्टर जलाने के संबंध में गिरफ्तार किया गया है और उनके खिलाफ कानूनी प्रक्रिया शुरू हुई।

दिल्ली में कांग्रेस का असली रंग दिखा :

वहीं, दिल्‍ली में इंडिया गेट पर हुए किसान कानून के खिलाफ प्रर्दशन को लेकर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, ''आज कांग्रेस ने दिल्ली में अपना असली रंग दिखाया। किसानों के नाम पर कुछ असामाजिक तत्व अराजकता फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। वे किसानों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। इस घटना की निंदा करने के लिए शब्द कम पड़ गए हैं।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co