राहुल का मोदी पर वार- लॉकडाउन मजदूर, किसान गरीब, छोटे व्यापारियों पर आक्रमण
राहुल का मोदी पर वार- लॉकडाउन मजदूर, किसान गरीब, छोटे व्यापारियों पर आक्रमण|Twitter Video
भारत

राहुल का मोदी पर वार- लॉकडाउन मजदूर, किसान गरीब, छोटे व्यापारियों पर आक्रमण

राहुल गांधी ने आज कोरोना वायरस लॉकडाउन को लेकर कहा-अचानक किया गया लॉकडाउन असंगठित वर्ग के लिए मृत्युदंड जैसा साबित हुआ। वादा था 21 दिन में कोरोना ख़त्म, लेकिन ख़त्म किए करोड़ों रोज़गार और छोटे उद्योग।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

दिल्‍ली, भारत। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज बुधवार को 'कोरोना वायरस लॉकडाउन' को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर वार किया। इस दौरान राहुल गांधी ने एक वीडियो जारी कर लॉकडाउन के दौरान मजदूरों को आई परेशानी समेत कई समस्याओं को लेकर पीएम मोदी को जनविरोधी बताया।

लॉकडाउन असंगठित वर्ग के लिए मृत्युदंड साबित हुआ :

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने इस ट्वीट में एक वीडियो शेयर शेयर किया और ट्वीट में लिखा- अचानक किया गया लॉकडाउन असंगठित वर्ग के लिए मृत्युदंड जैसा साबित हुआ। वादा था 21 दिन में कोरोना ख़त्म करने का, लेकिन ख़त्म किए करोड़ों रोज़गार और छोटे उद्योग। मोदी जी का जनविरोधी 'डिज़ास्टर प्लान' जानने के लिए ये वीडियो देखें।

असंगठित क्षेत्र के रीढ़ की हड्डी 21 दिन में टूट गई :

राहुल गांधी ने अपने इस वीडियो में ये कहा है कि, ''कोरोना के नाम पर जो किया वो असंगठित क्षेत्र पर तीसरा आक्रमण तीसरा वार था, क्योंकि गरीब लोग रोज कमाते रोज खाते हैं। छोटे और मध्यम वर्ग के व्यापार के साथ भी ऐसा है। जब आपने बिना कोई नोटिस लॉकडाउन किया आपने इनके ऊपर आक्रमण किया। प्रधानमंत्री जी ने कहा 21 दिन की लड़ाई होगी, असंगठित क्षेत्र के रीढ़ की हड्डी 21 दिन में ही टूट गई।''

इसके साथ ही उन्‍होंने ये भी कहा, लॉकडाउन कोरोना पर आक्रमण नहीं था। लॉकडाउन हिंदुस्तान के गरीबों, हमारे युवाओं के भविष्य, मजदूर किसान और छोटे व्यापारियों, हमारी असंगठित अर्थव्यवस्था पर आक्रमण था। हमें इस बात को समझना होगा और इस आक्रमण के खिलाफ हम सबको एक साथ मिलकर खड़ा होना होगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co