राहुल ने BJP और RSS के लोगों को बताया अपना गुरु
राहुल ने BJP और RSS के लोगों को बताया अपना गुरुSocial Media

राहुल ने BJP और RSS के लोगों को बताया अपना गुरु, कई मुद्दों पर बात करते हुए MP के लिए भी दिया बयान

भारत। आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस मुख्यालय में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान आयोजित 9वें संवाददाता सम्मेलन में कई मुद्दों को लेकर बयान जारी किए है।

भारत। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कांग्रेस मुख्यालय में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान आयोजित 9वें संवाददाता सम्मेलन में कहा कि, इस यात्रा से उन्होंने बहुत कुछ नया सीखा है। ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को उम्मीद से ज्यादा सफल बताते हुए कहा है कि इस यात्रा के जरिए वह देश को जोड़ने और नफरत तथा हिंसा के माहौल को मिटाना चाहते हैं एवं उन्हें लगता है कि इस लक्ष्य पर वह सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इस यात्रा के जरिए वह देशवासियों को जीने का नया तरीका देना चाहते हैं, लेकिन यह तरीका लोगों तक नहीं पहुंचे इसलिए भाजपा तथा आरएसएस उनको बदनाम करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। वह सच्चाई के मार्ग पर चल रहै हैं और वह जानते हैं कि सच्चाई को कोई भी दुष्प्रचार छिपा और मिटा नहीं सकता है। उनका कहना था कि अब तक करीब 5000 करोड़ उनको बदनाम करने के प्रचार पर खर्च हो गए होंगे लेकिन इससे उन पर कोई फर्क नहीं पड़ रहा है और यदि इस काम पर और भी खर्च करेंगे तब भी कोई फर्क पड़ने वाला नहीं है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि इस यात्रा के दौरान भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने उनकी जो आलोचना की है उससे भी उन्हें सीख मिली है तथा उनकी बुनियादी सोच इससे और मजबूत हुई है। मैं खासतौर से RSS और BJP के लोगों को धन्यवाद करता हूं, क्योंकि जितना वे आक्रमण करते हैं उतना हमें सुधार करने का मौका मिलता है। मैं चाहता हूं कि वे और ज़ोर से करें जिससे कांग्रेस पार्टी को अपनी विचारधारा अच्छे से समझ आए।

मैं उनको अपना गुरु मानता हूं कि वह मुझे रास्ता दिखा रहे हैं कि क्या करना चाहिए और क्या नहीं और अच्छी ट्रेनिंग दे रहे हैं।

राहुल गांधी

वहीं राहुल ने समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव और बहुजन समाज पार्टी की नेता मायावती के साथ उन्होंने वैचारिक रिश्ता बताते हुए कहा कि ये सब देश में हिंसा और नफरत के माहौल के विरुद्ध हैं, लेकिन कहा कि सपा की सोच कांग्रेस की तरह राष्ट्रीय स्तर की नहीं है। उनका विचार केरल, तमिलनाडु, बिहार या अन्य राज्यों में नहीं चल पाएगा लेकिन उत्तर प्रदेश में उनका विचार चल रहा है इसलिए राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा से लड़ने का एकमात्र विकल्प कांग्रेस और इसकी विचारधारा है। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी, नोटबंदी, जीएसटी, चीन नीति आदि केंद्र सरकार की गलत नीतियां हैं।

सुरक्षा प्रोटोकॉल तोड़ने संबंधी नोटिस को लेकर पूछे गए सवाल पर कहा-

सुरक्षा प्रोटोकॉल तोड़ने संबंधी नोटिस को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा,‘‘मैं भारत जोड़ो यात्रा कर रहा हूं और वे चाहते हैं कि मैं बुलेटप्रूफ गाड़ी में बैठकर यात्रा करुं और यह संभव नहीं है, लेकिन यदि उनका कोई नेता बुलेटप्रूफ गाड़ी से रोड शो के दौरान बाहर आता है तो वहां कोई सुरक्षा प्रोटोकॉल का मसला नहीं आता है। मतलब, मेरे लिए और उनके नेताओं के लिए दो अलग-अलग प्रोटोकॉल है। भारत जोड़ो यात्रा में मैं पैदल चल रहा हूं तो इसमें बुलेटप्रूफ गाड़ी में जाना संभव ही नहीं है इसलिए यह आरोप गलत है कि राहुल गांधी सुरक्षा प्रोटोकॉल तोड़ रहे हैं’’

MP के लिए राहुल ने कही ये बात

साथ ही राहुल ने कहा कि, मैं आपको एक बात लिखकर देता हूं कि कांग्रेस मध्य प्रदेश के चुनावों को जीतेगी और भाजपा वहां दिखाई नहीं देगी। मध्य प्रदेश में तूफान आया हुआ है और वहां हर कोई जानता है कि भाजपा ने वहां पैसा देकर सरकार बनाई है। पूरा प्रदेश गुस्से में है। आगे कहा कि, मैं शहीद परिवार का हूं और मैं जानता हूं कि जब एक युवा अपनी जान देता है तो उसके परिवार पर क्या गुजरती है, लेकिन भाजपा के शीर्ष नेतृत्व में कोई ऐसा नहीं है जो यह समझता हो। हम नहीं चाहते कि हमारी सेना से कोई जवान शहीद हो, हम नहीं चाहते कि इस चीज़ को लापरवाही से लें और सेना राजनीतिक फायदे के लिए इस्तेमाल की जाए और उसका नुकसान हमारे जवानों, उनके परिवारों को हो।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co