इस साल अब तक हुई बारिश ने तोड़ा दिल्ली में 46 साल का रिकॉर्ड
इस साल अब तक हुई बारिश ने तोड़ा दिल्ली में 46 साल का रिकॉर्डSocial Media

इस साल अब तक हुई बारिश ने तोड़ा दिल्ली में 46 साल का रिकॉर्ड

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बारिश का कहर जोरो पर दिखाई दे रहा है। क्योंकि यहां इस साल बारिश अब तक थमने का नाम नहीं ले रही है। इतना ही नहीं इस बारिश ने पिछले 46 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

दिल्ली, भारत। भारत के कई राज्यों में भारी बारिश के चलते बहुत बुरा हाल है। इन राज्यों में लगातार भारी बारिश के कारण आसपास के कई इलाके और गावों पूरी तरह जल मग्न हो गए है। इन राज्यों में चारों तरह बारिश के चलते आई बाढ़ से पानी-पानी ही नजर आरहा है। ठीक यही स्थिति इस समय राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की भी दिखाई दे रही है। क्योंकि, दिल्ली में बारिश का कहर जोरों पर दिखाई दे रहा है। यहां इस साल हो रही भारी बारिश अब तक थमने का नाम नहीं ले रही है। इतना ही नहीं इस बारिश ने पिछले 46 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

दिल्ली में बारिश ने तोड़ा 46 साल का रिकॉर्ड :

भारत के मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली में मानसून के आने से लेकर अब तक भारी बारिश के कारण कई राज्य के कई इलाकों में पानी-पानी ही नजर आ रहा है। दिल्ली में हुई इस साल अब तक हुई भारी बारिश ने बीते 46 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। कोरोना महामारी के बीच यहां 46 साल बाद बारिश ने ऐसा रौद्र रूप ले लिया है। हर कोई यहां बारिश से परेशान है। दिल्ली में इससे पहले साल 1975 में इस तरह की बारिश देखने को मिली थी। हालांकि, तब यह आंकड़ा इससे भी ज्यादा था। इससे तब से इतने सालों में यहाँ ऐसी बारिश नहीं हुई, लेकिन इस साल में ही यहां अब तक की सबसे अधिक यानी 1100 मिलीमीटर मिलीमीटर बारिश हो चुकी है और यदि ये बारिश नहीं थमी तो लोगों की मुश्किल और भी बढ़ सकती है। इस बारे में जानकारी मौसम विज्ञान विभाग ने दी है।

मौसम विज्ञान विभाग ने दी जानकारी :

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने शनिवार को जानकारी देते हुए बताया कि, 'इस साल मानसून के अत्यधिक असामान्य मौसम में दिल्ली में अभी तक 1100 मिलीमीटर बारिश हुई जो कि, 46 वर्षां में सबसे अधिक और पिछले साल दर्ज की गई बारिश से लगभग दोगुनी है। हालांकि ये आंकड़ें बदल सकते हैं, क्योंकि शहर में दिन में और बारिश का अनुमान है।' वहीं, IMD के एक अधिकारी ने बताया, ‘सफदरजंग वेधशाला ने 1975 के मानसून के मौसम में 1,150 मिलीमीटर बारिश दर्ज की थी। इस साल बारिश पहले ही 1,100 के आंकड़ें को पार कर गयी है और मानसून का मौसम अभी खत्म नहीं हुआ है।'

पिछले सालों में हुई बारिश :

बताते चलें, दिल्‍ली में भारी बारिश के चलते ही सिर्फ इंदिरा गांधी एयरपोर्ट (IGI) के कुछ हिस्सों में पानी भर गया है। जबकि, दिल्‍ली के कई इलाकों की सड़कें तो दिखाई ही देना बंद हो गई है। जिससे ट्रैफिक जाम होने की समस्या आरही है। बता दें, इससे पहले भी दिल्ली में कई सालों में बहुत ज्यादा बारिश हुई थी। जो कि, इस प्रकार है -

  • 2003 में 1,050 मिमी

  • 2011 में 636 मिमी

  • 2012 में 544 मिमी

  • 2013 में 876 मिमी

  • 2014 में 370.8 मिमी

  • 2015 में 505.5 मिमी

  • 2016 में 524.7 मिमी

  • 2017 में 641.3 मिमी

  • 2018 में 762.6 मिमी

  • 2019 में 404.3 मिमी

  • 2020 में 576.5 मिमी

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co