आरक्षण को लेकर गुर्जर आंदोलन-5 जिलों में इंटरनेट बंद, 60 ट्रेनें डायवर्ट

राजस्थान में आरक्षण को लेकर गुर्जरों में भारी आक्रोश, आंदोलन किया शुरु, रेल ट्रैक को जाम कर रखा है, जिसके कारण कई ट्रेनें प्रभावित, ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया। साथ ही 5 जिलों में इंटरनेट बंद है।
आरक्षण को लेकर गुर्जर आंदोलन-5 जिलों में इंटरनेट बंद, 60 ट्रेनें डायवर्ट
आरक्षण को लेकर गुर्जर आंदोलन-5 जिलों में इंटरनेट बंद, 60 ट्रेनें डायवर्टPriyanka Sahu -RE

राजस्थान, भारत। देश में एक तरफ कोरोना के जारी कहर के चलते लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग की सलाह दी जा रही है। तो वहीं, दूसरी ओर कई राज्‍यों में बड़ी संख्‍या में लोग अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन में जुटे हैं। दरअसल, कांग्रेस शासित राज्‍य राजस्थान में एक बार फिर गुर्जर आरक्षण आंदोलन की चिंगारी भड़की है।

राजस्थान में गुर्जरों का आंदोलन :

राजस्थान में मोस्ट बैकवर्ड क्लास (MBC) में बैकलॉग की भर्तियों समेत अन्य मांगों के लिए गुर्जर समुदाय के लोग सड़कों पर उतरे हैं। राजस्थान में आरक्षण को लेकर गुर्जरों में भारी आक्रोश है और उन्‍होंने आंदोलन शुरु कर दिया है। भरतपुर के बयाना में कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला गुट के लोग पीलूपुरा के पास रेलवे ट्रैक पर धरने पर बैठ गए, सुबह से उनका धरना जारी है।

आंदोलन से इंटरनेट व ट्रेनों पर असर :

प्रदर्शनकारियों ने आंदोलन रविवार से शुरू कर रखा है, इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने अपनी मांगों को लेकर रेल ट्रैक को भी जाम कर दिया, जिसके चलते कई ट्रेनों पर प्रभाव पड़ा है, त्योहारों के सीजन में जनता परेशान हो रही है। आंदोलन की वजह से 60 ट्रेनें डायवर्ट की गई हैं। इस बीच सरकार ने भरतपुर, करौली, दौसा, सवाईमाधोपुर समेत 5 जिलों में आज आधी रात तक इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी है एवं 220 बसों की आवाजाही रोक दी गई है।

गुर्जर समाज की मांग :

राजस्थान में गुर्जर आंदोलन जोर पकड़ता जा रहा हैै। आंदोलन कर रहे गुर्जरों ने एक बार फिर सरकार से 5 प्रतिशत आरक्षण की मांग दोहराई है। पिछले कई सालों से राजस्थान में गुर्जर कर्नल बैंसला के नेतृत्व में आरक्षण की मांग कर रहे हैं। आंदोलनकारियों की जिद है कि, ''जब तक सरकार उनकी मांगों को पूरा नहीं करती, वह रेल ट्रेक से नहीं उठेंगे।'' बता दें, इससे पहले आरक्षण को लेकर हुए आंदोलन कई बार भयानक रूप भी ले चुका है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co