राजस्थान पुजारी हत्या:मांग पूरी करने पर अड़ा परिवार-नहीं कर रहा दाह संस्कार

राजस्थान पुजारी हत्याकांड के बाद गांव में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है एवं अब तक अंतिम संस्कार नहीं हुआ है। परिजनों का कहना है, जब तक मांगें पूरी नहीं हो जातीं, अंतिम संस्कार नहीं करेंगे।
राजस्थान पुजारी हत्या:मांग पूरी करने पर अड़ा परिवार-नहीं कर रहा दाह संस्कार
राजस्थान पुजारी हत्या:मांग पूरी करने पर अड़ा परिवार-नहीं कर रहा दाह संस्कारSocial Media

राजस्थान, भारत। राजस्‍थान के करौली जिले के सपोटरा इलाके में दिल दहलाने वाली वारदात सामने आई थी, यहां दबंगों ने एक पुजारी के ऊपर पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया, जिससे पुजारी की मौत हो गई। इस घटना के बाद से गांव में आक्रोश है और परिवार वाले अंतिम संस्कार करने से इनकार कर रहे हैं।

परिजनों ने की ये मांग :

दरअसल, पुजारी की हत्या के विरोध में गांव में ग्रामीणों की भीड़ जुटने लगी है और ग्रामीण 50 लाख की आर्थिक सहायता, सरकारी नौकरी, सुरक्षा एवं आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। जब तक मांग पूरी नहीं हो जाती व ग्रामीण पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिल जाता तब तक अंतिम संस्कार नहीं करने पर अड़े हैं। वहीं, पुजारी बाबूलाल के परिजनों का कहना है कि, जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो जातीं, वे अंतिम संस्कार नहीं करेंगे।

गांव में हो रहा विरोध प्रदर्शन :

परिवार पर गम का पहाड़ टूटा है और उन्होंने तय किया है कि, जब तक इंसाफ नहीं मिलता वो पुजारी का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। इसके अलावा परिवार वालों ने पुलिस पर अंतिम संस्कार के लिए दबाव बनाने का आरोप लगाया है। वहीं मामले को लेकर गांव में विरोध प्रदर्शन भी शुरू हो गया है, डीएम और एसपी परिवार से मिलने के लिए पहुंचे हैं। तो वहीं, राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने करौली में पुजारी की हत्या मामले को लेकर सीएम अशोक गहलोत से बात की है।

प्रशासन कर रहा अंतिम संस्कार का अनुरोध :

इस दौरान प्रशासन पुजारी के परिजनों से अंतिम संस्कार किए जाने का अनुरोध कर रहे हैं।

पुजारी बाबूलाल के परिजनों ने चौथी डिमांड भी सामने रखी है, हम सीनियर अफसरों के जरिये सरकार को उनकी मांग के बारे में बताएंगे। हम परिजनों से अपील करते हैं कि वे दाह संस्कार करें क्योंकि शव को रखे हुए दो दिन हो चुके हैं।

ओम प्रकाश मीणा, करौली के एसडीएम

राज्यपाल ने जताई चिंता :

इस मुद्दे को लेकर राज्यपाल ने भी चिंता जताई है, राज्यपाल सचिवालय की तरफ से जारी बयान के मुताबिक, सीएम अशोक गहलोत ने आश्वासन दिया है कि मामलों की जांच की जा रही है और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co