खेलों के जरिए बन रहा है आपसी समन्वय का माहौल : अशोक गहलोत
खेलों के जरिए बन रहा है आपसी समन्वय का माहौल : अशोक गहलोतSocial Media

खेलों के जरिए बन रहा है आपसी समन्वय का माहौल : अशोक गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम से ओलंपिक खेल, देश ही नहीं दुनिया में एक नई और अनूठी पहल बताते हुए कहा है कि इसके जरिए आपसी समन्वय का माहौल बन रहा है।

उदयपुर, राजस्थान। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम से ओलंपिक खेल, देश ही नहीं दुनिया में एक नई और अनूठी पहल बताते हुए कहा है कि इसके जरिए संबंध मजबूत हुए है और आपसी समन्वय का माहौल बन रहा है।

श्री गहलोत प्रतापगढ़ एवं उदयपुर के गोगुन्दा (सूरण गांव) में ब्लॉक स्तरीय राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल गतिविधियों का अवलोकन के अवसर पर लोगों को संबोधित कर थे। उन्होंने दोनों ही जगहों पर विभिन्न विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण भी किया। इस दौरान उन्होंने मैदान में खिलाडिय़ों से मुलाकात की और उन्हें प्रोत्साहित किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों में उम्र का कोई बंधन नहीं रखा गया है। मैदान में हर वर्ग और बुजुर्ग से लेकर युवा खिलाड़ी एक साथ बिना किसी भेदभाव के हिस्सा ले रहे हैं। इससे गांवों में आपसी मेलजोल और भाईचारे का माहौल बन रहा है।

श्री गहलोत ने कहा कि राजीव गांधी के नाम से यह ओलंपिक खेल, देश ही नहीं दुनिया में एक नई और अनूठी पहल है। जल्द ही शहरों में भी बड़े स्तर पर खेल आयोजन होंगे। उन्होंने कहा कि राजस्थान में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है और हम ग्रामीण ओलंपिक खेलों के माध्यम से इन प्रतिभाओं को आगे लाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि खेल स्टेडियम के साथ-साथ खेल छात्रावास बनाने की दिशा में विचार किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार प्रदेश में वर्षा अच्छी हुई है, जिससे रबी की फसल का रकबा भी बढ़ा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आठ लाख किसानों के बिजली बिल शून्य हो गए हैं। इससे उन्हें आर्थिक संबल मिला है। उन्होंने कहा कि सामाजिक सुरक्षा सरकार का ध्येय है। इसी के तहत प्रदेश में एक करोड़ बुजुर्गों को सामाजिक सुरक्षा के तहत पेंशन दी जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में शिक्षा के लिए 3 साल में 211 महाविद्यालय खोले हैं, जिनमें 90 कन्या महाविद्यालय है। साथ ही, जिस विद्यालय में 500 बालिकाएं अध्ययनरत हैं, वहां महाविद्यालय शुरू किया जाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co