Rajasthan Budget 2023
Rajasthan Budget 2023Social Media

Rajasthan Budget 2023: राजेंद्र राठौड़ के सवाल, कटारिया-धारीवाल के बीच नोक झोंक, CBI जांच की मांग खारिज

Rajasthan Budget: आज राजस्थान के बजट सत्र का दूसरा दिन हैं। शिखा मंत्री बीडी कल्ला से तीखे सवाल हुए,वही मंत्री धारीवाल ने सीबीआई जांच की मांग खारिज की।

जयपुर,राजस्थान। विधानसभा में बजट सत्र में आज के प्रश्नकाल में उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने पेपर लीक को लेकर सरकार पर सवालों की बौछार के साथ ही नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया और संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल के बीच नोक झोंक देखने तो मिली हैं। पेपर लीक पर गहलोत सरकार की ओर तंज कसते हुए राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि कहीं वो दूध की रखवाली बिल्ली को तो नहीं दे रहे। वहीं, नेता प्रतिपक्ष कटारिया और मंत्री धारीवाल के नोक झोंक में बीच बचाव करने विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी को आना पड़ा। आज बजट सत्र का दूसरा दिन है,आज विपक्षी पार्टियां राज्य सरकार से सवाल किया। सदन में अभी भी बहस चल रही हैं।

राजेंद्र राठौड़ ने लगाया राजस्थान के कैबिनेट मंत्रियों पर आरोप

राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि "मुख्यमंत्री गहलोत की सरकार ने पेपर लीक के आरोपी भूपेंद्र सारण की कोचिंग पर बुलडोजर चलवाया जो उसका था ही नहीं।" उन्होंने कहा कि "भूपेंद्र सारण उस बिल्डिंग का किराया भी नहीं देता था और जो कोई भी उससे किराया मांगता था तो वह बड़े मंत्रियों और नेताओं का नाम लेकर डराया और धमकाया करता था। उन बड़े मंत्रियों और नेताओं पर कार्रवाई क्यों नहीं की गई और उन नेताओ के नाम क्यों सामने नहीं आ पाए ? आप कैसे कह रहे हैं कि कोई भी नेता और अफसर इस पेपर लीक में शामिल नहीं था?"

राठौड़ के पायलट वाले बोल

राजेंद्र राठौड़ ने, सचिन पायलट की हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा के दौरान कही गई बात को दोहराते हुए कहा कि जब रीट में डबल लॉक के अंदर पेपर रखा था तो वहां से आखिर पेपर कैसे बाहर निकला? यह तो कोई भी समझ सकता है कि अगर डबल लॉक के अंदर से पेपर निकला है तो वहां की सुरक्षा में लगे और लॉक खोलने वाले की जिम्मेदारी बनती है इस पर क्यों ध्यान नहीं दिया गया। यह साफ-साफ दिखाता है कि आप सिर्फ इन मामलों के बड़े और मुख्य आरोपियों को छोड़कर सिर्फ छोटे दलालों पर नाम मात्र की कार्रवाई कर रहे हो।

शिक्षा व्यवस्था के सवालों से घिरे बीडी कल्ला

  • राजस्थान के शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला आज सदन में सवालों से घिरे हुए नज़र आए।

  • नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने विद्या संबल योजना बीडी पर बीडी कल्ला से सवाल किया कि "इतने समय से पद खाली पड़े हैं। बच्चों को कौन पढ़ाएगा?"

  • इस पर शिक्षा मंत्री ने तर्क दिया कि आरक्षण का प्रावधान करने के लिए कुछ समय के लिए योजना स्थगित की है। जिसपर उन्होंने कहा कि गेस्ट फैकल्टी योजना को कुछ समय के लिए स्थगित किया है। इसे रद्द नहीं किया है।"

  • इस बीच स्पीकर सीपी जोशी ने भी बीडी कल्ला से कहा कि- शिक्षकों के खाली पदों को गेस्ट फैकल्टी से भरने की योजना सिरे नहीं चढ़ी।सालभर तक विद्या संबल योजना में पद नहीं भरने से बच्चों की पढ़ाई नहीं हो रही है। इसकी व्यवस्था करें।

  • जिसपर शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने कहा कि अब आगे से स्कूल प्रिंसिपल के स्तर पर गेस्ट फैकल्टी लगाए जा सकेंगे। प्रिंसिपल को इसका अधिकार दिया जाएगा।

धारीवाल और कटारिया के बीच नोक झोंक

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने पेपरलीक से जुड़े मामले में शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला के जवाब पर सवाल उठाया और जवाब के विरोध में बायकॉट करने की घोषणा की, जिसपर संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने गुलाब चंद कटारिया से कहा कि पहले पूरा जवाब सुनकर जाइए। धारीवाल के टोकने पर कटारिया नाराज हो गए और कहा कि क्या जवाब सुन लें।

इसके बाद कटारिया और धारीवाल के बीच नोकझोंक हो गई। बीजेपी विधायकों ने कल की तरह वापस हंगामा शुरू कर दिया, जिसकी वजह से स्पीकर सीपी जोशी ने हंगामा बढ़ते देख पेपरलीक पर बहस को खत्म कर दिया और 1 बजकर 57 मिनट पर 10 मिनट के लिए सदन की कार्यवाही को स्थगित कर दिया था।

पेपर लीक की सीबीआई जांच की मांग खारिज

संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल ने विपक्षी नेताओं की पेपर लीक को लेकर सीबीआई जांच की मांग को खारिज कर दिया हैं। उन्होंने कहा कि "अब अगर इस मामले को सीबीआई को दिया गया तो सोचिए क्या होगा? 8 सालों तक इसपर सिर्फ जांच चलती रहेगी, पेपर लीक से जुड़े जितने दस्तावेज उनकी जांच सीबीआई को करने में समय लग जाएगा।हम नहीं चाहते कि मामला सीबीआई को जाए। राजस्थान पुलिस जांच में सक्षम, हम जांच से संतुष्ट है।ऐसे मामले पहले भी आए है, SOG कार्रवाई कर रही है"

मंत्री शांति धारीवाल ने भाजपा पर काउंटर आरोप लगाते हुए कहा कि

"आपके समय में गिरफ्तारी तो हुई, लेकिन आपने पेपर लीक रोकने के लिए कोई गंभीर कदम नहीं उठाया, हमारी सरकार ने इसे लेकर कानून बनाया और पेपर लीक का प्रयास करने वाले को भी इस मामले में आरोपी बनाया।"

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co