दिल्‍ली: भीमराव अम्बेडकर जयंती समारोह में रक्षा मंत्री राजनाथ का संबोधन
दिल्‍ली: भीमराव अम्बेडकर जयंती समारोह में रक्षा मंत्री राजनाथ का संबोधनTwitter

दिल्‍ली: भीमराव अम्बेडकर जयंती समारोह में रक्षा मंत्री राजनाथ का संबोधन

दिल्‍ली भाजपा मुख्यालय में डॉ. भीमराव अम्बेडकर जयंती समारोह को आयोजित हुआ, जिसे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संबोधित किया और कहा-बाबासाहेब कोई साधारण व्यक्ति के नहीं थे, हम उन्हें महानायक मानते हैं।

दिल्‍ली, भारत। भारतीय संविधान के शिल्पकार, भारत रत्न बाबा साहब डॉ भीमराव अम्बेडकर की आज 14 अप्रैल को 130वीं जन्म जयंती मनाई जा रही है। इस दौरान दिल्‍ली के भाजपा मुख्यालय में डॉ. भीमराव अम्बेडकर जयंती समारोह को आयोजित हुआ, जिसे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संबोधित किया।

बाबा साहेब को हम महानायक मानते हैं :

अम्बेडकर जयंती समारोह में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- भाजपा अकेली ऐसी पार्टी है जो बाबासाहेब के जन्म दिन के अवसर पर देशभर में व्यापक स्तर पर कार्यक्रमों का आयोजन किया है। जब हम जनसंघ के रूप में काम करते थे, तब भी बाबा साहेब की जयंती समसरता दिवस के रूप में मनाते थे। बाबा साहेब कोई साधारण व्यक्ति के नहीं थे, हम उन्हें महानायक मानते हैं। वे ऐसा व्यक्तित्व थे, जिन्होंने अपने कृत्यों से जीवन में आने वाली सभी बाधाओं को साहस और दृढ़ता से दूर किया।

पूरी श्रद्धा और प्रतिबद्धता बाबा साहेब के प्रति व्यक्त :

राजनाथ सिंह बोले- बाबासाहेब को केवल दलित आइकन के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए। हम उनमें कई व्यक्तित्व देखते हैं - एक शानदार लेखक और बौद्धिक और हमेशा अपनी उत्पत्ति के लिए गहराई से निहित थे। उनके भाषणों को दुनिया भर के बुद्धिजीवियों ने सुना था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास का मंत्र दिया है। इसी मंत्र के साथ हम अपनी पूरी श्रद्धा और प्रतिबद्धता बाबा साहेब के प्रति व्यक्त हैं।

हमारी पार्टी ने बाबा साहेब को सिर्फ दलित आइकन की तरह ही नहीं देखा। वो महान लेखक, बुद्धिजीवी और सदैव अपनी जड़ों से जुड़े रहने वाले व्यक्ति थे। दुनिया के अन्य बुद्धिजीवियों में बाबा साहेब का नाम आता है।
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस दौरान ये भी बताया- भाजपा की सरकार बनने के बाद हमारी पार्टी ने लंदन में जहां बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर पढ़ाई करते थें वहां पर स्मारक बनाने का काम किया। आज देश में अनुसूचित जाति पोस्ट मैट्रिक स्कॉलशिप करीब 4 करोड़ से ज्यादा बच्चों को प्राप्त हो रही है। ये कोई छोटी बात नहीं है, जिनकी बाबा साहेब के विचारों प्रति आस्था होगी वही ये कर सकता है। अनुच्छेद 370 के अंतर्गत जम्मू कश्मीर को स्पेशल स्टेट्स नहीं मिलना चाहिए, अन्य राज्यों की तरह जम्मू कश्मीर का भी दर्जा होना चाहिए, इसकी तीव्र वकालत बाबा साहेब ने की थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co