महामारी के बाद भारत एक अलग विकास की कहानी लिख रहा: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
महामारी के बाद भारत एक अलग विकास की कहानी लिख रहा: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंहSocial Media

महामारी के बाद भारत एक अलग विकास की कहानी लिख रहा: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

तमिलनाडु के दौरे पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज सेलम में भारतीय जनता युवा मोर्चा सम्मेलन को संबोधित किया। जानें उनके संबोधन में प्रमुख बातें...

तमिलनाडु, भारत। देश के पांच राज्यों में होने वाले चुनाव को लेकर इन राज्‍यों में चुनाव प्रचार चरम पर है। तमाम नेता चुनावी राज्‍यों का दौरा कर कई कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं। आज रविवार को ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तमिलनाडु के दौरे पर हैं।

महामारी के बाद देश में हो रहे सुधार पर बोले राजनाथ :

तमिलनाडु के सेलम में भारतीय जनता युवा मोर्चा (बीजेवाईएम) सम्मेलन को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संबोधित किया। इस दौरान तमिलनाडु के सलेम में राजनाथ सिंह ने महामारी के बाद देश में हो रहे सुधार को लेकर ये बात कही कि, "महामारी के बाद भारत एक अलग विकास की कहानी लिख रहा है। देश में दिन—प्रतिदिन विदेश निवेश बढ़ रहा है, जिसके कारण शेयर बाजार में जमकर उछाल आ रहा है।"

हमने केवल कोरोना पर ही काबू पाने में सफलता नहीं पाई है। बल्कि इसकी 'मेक इन इंडिया' वैक्सीन बनाने में भी सफलता पाई है। इसका इस्तेमाल हम केवल देश में ही नहीं कर रहे हैं, बल्कि दूसरे देशों को अपनी वैक्सीन देकर उनकी मदद भी कर रहे हैं।
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

अर्थव्यवस्था के बारे में राजनाथ सिंह का कहना :

इसके अलावा तमिलनाडु के सेलम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया- कोरोना महामारी के कारण भारत की अर्थव्यवस्था पर भी बुरा असर पड़ा था, लेकिन हमारी सरकार ने ऐसा काम किया है कि, अब IMF ने भी कहा है कि 2021-22 में भारत की GDP 11% से भी ज्यादा होगी। गांव की अर्थव्यवस्था को विकसित बनाने के लिए हम गांव में पक्की सड़के बनाने का काम तेजी से कर रहे हैं।

  • किसान सम्मान निधि के अंतर्गत किसानों के खाते में हर साल 6,000 रुपये डालने का काम हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया है।

  • गांव और शहरी इंफ्रास्ट्रक्चर पर हम 100 लाख करोड़ रुपये खर्च करने जा रहे हैं।

  • मैं अपने तमिलनाडु के दोस्तों को जानकारी देना चाहता हूं कि सेलम चेन्नई एक्सप्रेसवे के निर्माण की बोली 2021-22 में शुरू होने वाली है।

इसके अलावा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारतीय जनता युवा मोर्चा सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि, ''अंतरराष्ट्रीय मातृभाष दिवस पर मैं तमिल में अधिक बोलना चाहता था, लेकिन तमिल बात नहीं करने के लिए माफी मांगना चाहता हूं।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co