Raj Express
www.rajexpress.co
आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत
आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत|Social Media
भारत

भारतीय शब्द नहीं हैं लिंचिंग-स्वयंसेवकों का ऐसी घटनाओं से कोई संबंध नहीं: भागवत

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर में आयोजित वार्षिक पर्व के दौरान लिंचिंग शब्द को बताया विदेशी। आर्टिकल 370 पर की सरकार की तारीफ।

Rishabh Jat

राज एक्सप्रेस। लिंचिंग पर बोलते हुए संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहाँ , ‘‘ईसा मसीह एक दिन कहीं जा रहे थे। रास्ते में उन्होंने देखा कि कुछ लोग एक युवती को गालियां दे रहे हैं। ईसा ने उनके पास जाकर पूछा कि तुम लोग इस अकेली महिला पर क्रोध क्यों कर रहे हो? इस पर कुछ लोगों ने कहा कि यह युवती चरित्रहीन है। आज हम इसे पत्थरों से मार डालेंगे। इसी बीच कुछ लोगों ने पत्थर उठा लिए। यीशु ने कहा-यह बात ठीक है कि युवती ने पाप किया है। तुम लोगों का क्रोधित होना भी ठीक है। लेकिन दंड वहीं दे सकता है जिसने अपने जीवन में कभी कोई अपराध नहीं किया हो। इस युवती को पहला पत्थर वह मारे, जिसने मन, वचन और शरीर से कभी कोई पाप नहीं किया हो। अगर तुम लोगों में कोई महान धर्मात्मा हो, तो वह आगे आए। यीशु की बात सुनते ही सबके चेहरे उतर गए। उनके हाथों के पत्थर नीचे गिर गए। धीरे-धीरे सभी वहां से खिसक लिए। पत्थरों से मारने की घटना किसी बाहर देश में मिलती है, हमारे यहां नहीं।

आर्टिकल 370 पर सरकार की तारीफ़

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के लिए मोदी सरकार को एक साहसी फैसला लेने वाली सरकार बताया। उन्होंने कहा कि जन अपेक्षाओं को प्रत्यक्ष तौर पर सरकार ने साकार करके दिखाया है। देशहित में उनकी इच्छाएं पूर्ण करने का साहस दोबारा चुने हुए शासन में किया, जनभावनाओं का सम्मान करते हुए धारा 370 को अप्रभावी बनाने के सरकार के काम से यह बात सिद्ध हुई है कि जनहित ही उनका ध्येय है।आजादी के बाद से धारा 370 सभी सरकारों के लिए रोढ़ा बनी हुई थी। मोदी सरकार ने इसे हटाकर नया इतिहास रच दिया है।

संघ प्रमुख पर दिग्गी का हमला

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने संघ प्रमुख के बयान पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि, "जिस दिन मोहन भगवत एकजुटता का सन्देश देकर एकता का पालन करेंगे, उस दिन सारी समस्या समाप्त हो जायेगी। भागवत के बयान पर दिग्विजय के कटाक्ष के बाद मध्यप्रदेश के सियासी माहौल का पारा चढ़ गया है। पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दिग्विजय सिंह के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि, दिग्विजय सिंह सूरज को दिया दिखा रहे हैं।