असम के गुवाहाटी में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कामाख्या मंदिर में की पूजा
असम के गुवाहाटी में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कामाख्या मंदिर में की पूजाPriyanka Sahu -RE

असम के गुवाहाटी में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कामाख्या मंदिर में की पूजा

असम के गुवाहाटी स्थित कामाख्या मंदिर में आज देश के विदेश मंत्री एस जयशंकर पहुंचे और यहां उन्‍होंने पूजा-अर्चना की...

असम, भारत। असम की राजधानी दिसपुर के पास गुवाहाटी से 8 किलोमीटर दूर स्थित कामाख्या मंदिर का भारत का प्रसिद्ध मंदिर है, यह मंदिर शक्ति की देवी सती का मंदिर है और आज 15 फरवरी को देश के विदेश मंत्री एस जयशंकर असम के गुवाहाटी स्थित कामाख्या मंदिर पहुंचे हैं।

जयशंकर ने कामाख्या मंदिर में की पूजा :

विदेश मंत्री एस जयशंकर आज सुबह असम के गुवाहाटी में कामाख्या मंदिर पहुंचे, यहां उन्‍होंने पूजा-अर्चना की। इस दाैरान विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ हिमंत बिस्व शर्मा भी मौजूद रहे। अब आज राज्य में होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों में विदेश मंत्री शामिल होंगे।

इससे पहले बीते दिन कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने असम के शिवसागर में चुनाव प्रचार की शुरुआत कर एक जनसभा को संबोधित किया था और अब विदेश मंत्री एस जयशंकर गुवाहटी दौरे पर पहुंचे है एवं नीलाचल पहाड़ियों पर माँ कामाख्या का आशीर्वाद लेकर दिन की शुरुआत की।

नीलांचल पर्वत पर स्थित कामाख्या मंदिर :

बताते चले कि, कामाख्या में शक्ति की देवी सती का मंदिर नीलांचल पर्वत पर स्थित है। यह मंदिर एक पहाड़ी पर बना है, इसका महत तांत्रिक महत्व है। प्राचीन काल से सतयुगीन तीर्थ कामाख्या वर्तमान में तंत्र सिद्धि का सर्वोच्च स्थल है।

बता दें कि, असम राज्‍य में भी इस साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। आगामी अप्रैल-मई तक चुनाव होने की प्रबल संभावना है। हालांकि, अभी इसके लिए तारीखों की घोषणा नहीं हुई है। इस साल जिन-जिन राज्‍यों में चुनाव होने हैं, उन चुनावी राज्‍यों में राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने स्‍तर पर जोरदार प्रचार-प्रसार कर रही है। अगर असम की बात करें तो, यहां नागरिकता संशोधन कानून (CAA) चुनाव का एक बड़ा मुद्दा है, क्योंकि राज्य की एक बड़ी आबादी का ऐसा मानना है कि, CAA की वजह से बड़ी संख्या में बांग्लादेशी हिन्दू शरणार्थियों को नागरिकता प्रदान की जाएगी, इससे पहले असम में CAA को लेकर काफी विरोध-प्रदर्शन हो चुके हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co