नागपुर: आज से शनिवार और रविवार के लिए लागू हुआ ‘जनता कर्फ्यू'

नागपुर: महाराष्ट्र के कोरोना प्रभावित शहरों में नागपुर का नाम भी पड़े पैमाने पर शामिल है। इन हालातों को देखते हुए मनपा सत्तापक्ष और प्रशासन ने शनिवार और रविवार को ‘जनता कर्फ्यू' लगाने का फैसला किया है।
नागपुर: आज से शनिवार और रविवार के लिए लागू हुआ ‘जनता कर्फ्यू'
Saturday and Sunday Janata curfew in Nagpur Social Media

नागपुर। भारत में आज कोरोना का आंकड़ा 53 लाख से ऊपर पहुंच चुका है। देश के कुछ राज्यों में कोरोना बहुत तेजी से अपने पैर पसार रहा है। इन राज्यों में शामिल महाराष्ट्र में भी कोरोना संक्रमण की स्थिति काफी गंभीर है। महाराष्ट्र के कोरोना से ज्यादा प्रभावित शहरों में नागपुर का नाम भी पड़े पैमाने पर शामिल है। इन हालातों को देखते हुए मनपा सत्तापक्ष और प्रशासन ने शनिवार और रविवार को ‘जनता कर्फ्यू' लगाने का फैसला किया है।

नागपुर में लागू हुआ ‘जनता कर्फ्यू :

दरअसल, नागपुर में कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ता नजर आता देख मनपा सत्तापक्ष और प्रशासन द्वारा आज यानि शनिवार से 30 सितंबर तक के लिए हर शनिवार और रविवार को ‘जनता कर्फ्यू' लगाने की घोषणा कर दी है। बताते चलें, अपने रजतय की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए अब कोई भी राज्य सम्पूर्ण लॉकडाउन लगाने को लेकर विचार नहीं कर प् रहा है। इसलिए ही नागपुर में सम्पूर्ण लॉकडाउन न लगते हुए शनिवार और रविवार को ‘जनता कर्फ्यू'लगाने का फैसला किया गया है, यानि आज से नागपुर में हर शनिवार और रविवार को नागपुर में सभीकुछ बंद रहेगा।

मनपा मुख्यालय की बैठक :

बताते चलें, महापौर द्वारा शुक्रवार को मनपा मुख्यालय के सभा कक्ष में जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक करने के बाद जनता कर्फ्यू का फैसला लिया गया था। इस बैठक के दौरान ज्यादातर जनप्रतिनिधियों द्वारा कोरोना के बढ़ते मामलों को मद्देनजर रखते हुए शहर में ‘जनता कर्फ्यू’ लगाने की मांग की थी। जनप्रतिनिधियों की मांग पर विचार करते हुए महापौर ने शहरवासियों से शुक्रवार की रात 9.30 बजे से लेकर सोमवार की सुबह 7.30 बजे तक घरों में ही रहने का आह्वान किया है। हालांकि, इस दौरान मेडिकल स्टोर खुले रहेंगे।

आयुक्त राधाकृष्णन का कहना :

नागपुर में लॉकडाउन लगाने से जुडी चर्चा के दौरान आयुक्त राधाकृष्णन बी. का कहना था कि, 'शहर की स्थिति को देखते हुए लॉकडाउन की नहीं, बल्कि सामाजिक जिम्मेदारी की ज्यादा जरूरत है। प्रत्येक नागरिक नियमों का पालन करें। लॉकडाउन आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयारी का समय होता है। शहर में आवश्यक सभी वैद्यकीय सुविधा तैयार है। इसमें वृद्धि के लिए रोजाना मनपा के प्रयास शुरू हैं, इसलिए लॉकडाउन की जरूरत नहीं।' बता दें, उसी चर्चा के बाद आयुक्त राधाकृष्णन बी. और महापौर संदीप जोशी की सहमति के बाद जनता कर्फ्यू लगाया गया।

जनप्रतिनिधियों का कहना :

जनप्रतिनिधियों का कहना था कि, 'लॉकडाउन का निर्णय राज्य सरकार का है, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते जनता में भय का वातावरण है। इसके लिए शहर में सप्ताह के दो दिन जनता कर्फ्यू लगाना आवश्यक है।' इसी दौरान महापौर संदीप जोशी ने बताया कि, ‘जनता कर्फ्यू’ के दौरान दवाई दुकानों को छोड़कर कोई भी दुकान, कार्यालय शुरू न रखें। नागरिक घर से बाहर न निकलें। व्यापारियों भी इसमें साथ दें।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co