महामारी बच्‍चों पर भारी-बड़ी तादाद में स्‍कूली बच्‍चे संक्रमित से हड़कंप

देश में कई स्‍कूलों में बड़ी तादाद में स्कूली बच्चे कोरोना के शिकार हुए, जिससे जिला प्रशासन-स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप, स्कूलों को बंद करने के आदेश। यहां देखें किस राज्‍य में कितने बच्‍चे संक्रमित
महामारी बच्‍चों पर भारी-बड़ी तादाद में स्‍कूली बच्‍चे संक्रमित से हड़कंप
महामारी बच्‍चों पर भारी-बड़ी तादाद में स्‍कूली बच्‍चे संक्रमित से हड़कंपPriyanka Sahu -RE

हरियाणा: जैसा की सभी को पता है पूरा देश घातक महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रहा है, कोरोना संकटकाल के दौर में अब स्‍कूलों को भी खोल दिया गया है। इस बीच स्कूली बच्चों से जुड़ी बहुत बड़ी खबर सामने आ रही हैै, जिसे देख सब चौंक उठे है और स्‍कूल जाने वालों बच्‍चों के पेरेंट्स भी इस खबर ने चिंता बढ़ा दी है।

स्कूलों में कोरोना विस्फोट :

कोरोना काल में स्‍कूलों के खुलते ही स्कूलों में कोराेना का साया घूमने लगा है और ये महामारी का रौद्र रूप अब बच्‍चों पर भारी पड़ रहा है। कोरोना के विस्फोट से स्‍कूलों में बड़ी तादाद में बच्चे कोरोना वायरस के शिकार हो रहे हैं, जिससे जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। अभी तक राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में कोरोना के सबसे अधिक केस दर्ज हो थे, लेकिन अब दिल्‍ली ही नहीं बल्कि अब हरियाणा में भी बड़ी तेज़ी से कोरोना फैल रहा है। हरियाणा में तो अब स्कूलों में कोरोना जबरदस्‍त कहर बरपाया हुआ है।

8 स्‍कूलों के 80 बच्‍चे कोरोना संक्रमित :

दरअसल, कोरोना काल के बीच हरियाणा के रेवाड़ी से चिंता बढ़ाने वाली ये ख़बर सामने आई है कि, रेवाड़ी में मंगलवार को 5 सरकारी और 3 निजी यानी कुल 8 स्कूलों में 80 बच्चाें के कोरोना संक्रमित की पुष्टि हुई है। बता दें, हरियाणा सरकार की जारी गाइडलाइन के मुताबिक, 2 नवंबर से 9वीं से 12वीं क्लास तक के स्कूलों को खोला गया है। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग ने कुछ प्राइवेट और सरकारी स्कूलों के 837 बच्चों के कोरोना सैंपल लिए थे, जिसकी रिपोर्ट सामने आई तो इस दौरान 80 बच्चे इस घातक वायरस की चपेट में आए हैं।

स्कूलों को बंद करने के आदेश जारी :

तो वहीं, इतनी बड़ी तादाद में स्कूली बच्चों के कोरोना संक्रमित की सूचना के बाद उपायुक्त यशेंद्र सिंह ने जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कुमार से बातचीत करके आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए। साथ ही शिक्षा विभाग की ओर से 15 दिनों तक प्रभावित स्कूलों को बंद करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

जींद में 11 बच्चों के साथ 8 टीचर कोरोना पॉजिटिव :

हरियाणा के अलावा कुछ ऐसा ही हाल जींद जिले से भी सामने आया है। जींद सिविल अस्पताल की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, जिले में आज बुधवार को एक दिन में 11 बच्चों के साथ-साथ 8 टीचर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

स्कूलों को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट :

स्कूली बच्चों के बड़ी तादाद में कोरोना संक्रमित के मामले सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से अलर्ट हो गया है और सभी स्कूलों में कोरोना टेस्टिंग किए जाने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। इसके अलावा छात्रों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अब उनके घरवालों की भी जांच की जा रही है।

क्‍या कोरोना काल में स्‍कूल खोलना सही है ?

महामारी कोरोना जैसे संकटकाल में सामने आई इस चिंताजनक खबर के बाद अब स्‍कूलाें में कोरोना वायरस की दस्तक के बाद स्कूलों को खोलने के फैसले पर कई तरह के सवाल उठने लगे हैं। साथ ही ये सवाल भी उठता है कि, क्‍या कोरोना जैसे इस काल में बच्चों की जिंदगी के साथ खेलकर स्‍कूल खोलना सही है? आखिर कोरोना गाइडलाइन के अनुसार, जिम्मेदार अधिकारी, कर्मचारियों ने क्यों काम नहीं किया। इतनी संख्‍या में स्‍कूली बच्चों का कोरोना संक्रमित होना प्रशासन की घोर लापरवाही है और अब बच्‍चाें के कोरोना संक्रमित का जिम्मेदार कौन?

क्‍या स्‍कूलाेें में बच्‍चे कोरोना से सुरक्षित ?

ऐसे में ओर भी जगहों पर खुले स्‍कूलाेें में भी क्‍या बच्‍चे इस वायरस कोरोना से सुरक्षित है? कोरोना के इस बड़े विस्फोट के बाद अब स्‍कूल जाने वाले बच्‍चों के पेरेंट्स के साथ ही सरकार की चिंता बढ़ गई है। अभिभावक भी अपने बच्चों को लेकर चिंतित है, ऐसे में निश्चित तौर पर सरकार द्वारा कुछ ऐसा प्रबंध किया जाना चाहिए, जिससे स्कूली बच्चे इस वायरस का शिकार ना हों।

निशाने पर खट्टर सरकार :

तो वहीं, हरियाणा के स्कूलों में बच्चों के कोरोना पॉजिटिव की खबर सामने आने के बाद अब राज्‍य की खट्टर सरकार कांग्रेस के निशाने पर आ गई है। एक तरफ कांग्रेस के नेता सरकार के खिलाफ आवाज उठाते हुए उनपर हमला बोल रहे है, तो दूसरी ओर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का कहना है कि सरकार सभी जरूरी कदम उठा रही है।

देश में कोरोना की स्थिति :

अगर पूरे देश में कोरोना के केस की बात करें तो अब तक देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 89 के पार होकर 89 लाख 12 हजार 907 हो गई है और कुल 83 लाख 35 हजार 109 मरीज कोविड-19 को मात देकर ठीक हो चुके हैं, लेकिन ये घातक वायरस अब तक 1 लाख 30 हजार 993 लोगों की जान भी ले चुका है। तो वहीं, देश में एक्टिव केस की संख्या 4 लाख 46 हजार 805 हैं। हालांकि, देशभर में बड़ी तादाद में कोरोना टेस्‍ट भी हो रहे है और 17 नवंबर तक कोरोना वायरस के कुल 12,74,80,186 सैंपल टेस्ट हो चुके हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co