डेंगू बुखार के कहर से उत्तर प्रदेश में एक सप्ताह के लिए फिर बंद हुए स्कूल
डेंगू बुखार के कहर से उत्तर प्रदेश में एक सप्ताह के लिए फिर बंद हुए स्कूलSyed Dabeer Hussain - RE

डेंगू बुखार के कहर से उत्तर प्रदेश में एक सप्ताह के लिए फिर बंद हुए स्कूल

उत्तर प्रदेश में पिछले दिनों ही स्कूल खोले गए थे, लेकिन अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इन्हें एक बार फिर सप्ताहभर के लिए बंद करने का फैसला किया है। हालांकि, इस बार कारण कोरोना नहीं बल्कि डेंगू है।

उत्तर प्रदेश, भारत। पूरी दुनिया में घातक 'कोरोना वायरस' का कहर अब भी जारी है, साथ ही लगातार मामलों में बढ़ने से सभी परेशान हैं, क्‍योंकि यह खतरनाक वायरस काफी लोगों की जान ले चुका है। इसके चलते काफी समय तक स्की संस्थानों के साथ ही स्कूल भी बंद रहे हालांकि, कई राज्यों में पहले से आंकड़ा कम होने के बाद स्कूल खोल दिए गए। इन्हीं में उत्तर प्रदेश का नाम भी शामिल है। जी हां, उत्तर प्रदेश में पिछले दिनों ही स्कूल खोले गए थे, लेकिन अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इन्हें एक बार फिर सप्ताहभर के लिए बंद करने का फैसला किया है। हालांकि, इस बार कारण कोरोना नहीं बल्कि डेंगू है।

उत्तर प्रदेश में फिर बंद हुए स्कूल :

दरअसल, उत्तर प्रदेश में इन दिनों कोरोना कहर के अलावा डेंगू बुखार का कहर भी जमकर फैल रहा है। अब तक कई मामले सामने आचुके है। इतना ही नहीं UP में अलग-अलग जिलों से डेंगू बुखार के चलते लगातर लोगों की मौत भी हो रही है। इन मरने वालों का आंकड़ा सबसे ज्यादा तेजी से मथुरा और फिरोजाबाद में देखने को मिल रहा है। इन मरने वालों में ज्यादातर बच्चे शामिल हैं। इस बात को मद्देनजर रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक्शन लेते हुए तुरंत स्कूलों को बंद करने के आदेश जारी कर दिए हैं। CM योगी ने कहा, 'बीमारी को फैलने से रोकने के लिए एक सप्ताह तक स्कूल बंद कर दिए जाएं।

अब तक जा चुकी इतने बच्चों की जान :

बताते चलें, इससे पहले फिरोजाबाद जिले के जिलाधिकारी ने आदेश पारित कर दिए जिले के स्कूलों को 6 सितंबर तक बंद करने के आदेश दिए थे। वहीं, अब डेंगू का कहर अन्य राज्यों में भी देखने को मिल रहा है। जिसके चलते अब राज्य के सभी स्कूलों को बंद करने का फैसला किया गया है। बता दें, फिरोजाबाद जिले में अब तक मरने वाले 41 लोगों में 37 बच्चे शामिल थे जबकि, मथुरा में डेंगू बुखार से मरने वाले 14 लोगों में 12 बच्चे शामिल है। इसके अलावा मेडिकल कॉलेज की प्रधानाचार्य डॉ संगीता अनेजा ने पिछले दिनों बताया था कि, 'मेडिकल कॉलज के बच्चा वार्ड में 186 बच्चे एडमिट हैं। जबकि सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटल फुल हो चुके हैं।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co