इन राज्य की सरकारों ने लिया राज्य के स्कूल खोलने का फैसला
इन राज्य की सरकारों ने लिया राज्य के स्कूल खोलने का फैसलाSocial Media

इन राज्य की सरकारों ने लिया राज्य के स्कूल खोलने का फैसला

देश में मामलों में कमी दर्ज होने के बाद पिछले दिनों बिहार और महाराष्ट्र सरकार ने स्कूल खोल दिए हैं। इन्हीं राज्यों की राह पर चलकर अब कुछ और राज्यों की सरकार ने भी स्कूल खोलने का ऐलान कर दिया है।

Schools Reopen : देश में कोरोना से बने हालातों को मद्देनजर रखते हुए मार्च से ही सभी राज्यों में स्कूल बंद कर दिए गए थे, परंतु मार्च से ही बंद किए गए स्कूलों को अब कई राज्यों की सरकारें खोलने को लेकर विचार कर रही हैं। देश में मामलों में कमी दर्ज होने के बाद पिछले दिनों बिहार और महाराष्ट्र की सरकार द्वारा स्कूल खोलने को लेकर आदेश जारी किए गए थे। वहीं, अब इन्ही राज्यों की राह पर चलकर अब राजस्थान, हरियाणा और गुजरात की सरकार ने भी स्कूल खोलने का ऐलान कर दिया है।

इन राज्यों में खोले जाएंगे स्कूल :

दरअसल, देशभर में बंद स्कूलों को कई राज्यों में खोलने को लेकर विचार किया जा रहा है। इनमें राजस्थान, हरियाणा और गुजरात का नाम भी शामिल है। जी हां, यह सभी राज्य स्कूल खोलने की तैयारियों में जुटे हैं। इनमें से राजस्थान में सरकारी और निजी स्कूलों के बीच फैसला अभी तय नहीं किया गया हैं। क्योंकि, राजस्थान में सरकारी स्कूल्स खोलने को लेकर वहां के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने स्कूल खोलने को लेकर जानकारी दी। उधर इस मामले में प्राइवेट स्कूल्स के संगठन राजस्थान स्कूल शिक्षा परिवार ने भी अपना पक्ष साफ कर दिया है।

राजस्थान के शिक्षा मंत्री का बयान :

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने अपने बयान में कहा था कि, 'कैबिनेट की मीटिंग में स्कूल्स रीओपनिंग पर फैसला होना था, लेकिन समय की कमी के कारण इस मुद्दे पर चर्चा नहीं हो सकी। इसके बाद स्कूल शिक्षा परिवार ने कहा है कि 'अगर सरकार स्कूल खोलने को लेकर कोई फैसला नहीं भी लेती है, तो भी हम 16 जुलाई से स्कूल खोलेंगे।'

स्कूल शिक्षा परिवार के अध्यक्ष का बयान :

राजस्थान स्कूल शिक्षा परिवार के अध्यक्ष अनिल शर्मा ने बयान में कहा कि 'एक साल से ज्यादा समय से स्कूल बंद रहने और फिजिकल क्लासेज़ न होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों के ज्यादातर बच्चे मुश्किलों से जूझ रहे हैं। इसलिए पैरेंट्स की अनुमति के साथ उन बच्चों की भलाई के लिए हम 16 जुलाई 2021 से स्कूल्स खोलने जा रहे हैं। 50% अटेंडेंस के साथ क्लास 6 से लेकर 12वीं तक की क्लास शुरू की जाएगी। सभी कोविड प्रोटोकॉल्स का पालन किया जाएगा। सरकार चाहे तो हमें गिरफ्तार कर सकती है स्कूल्स ने ऑनलाइन शिक्षा देने की पूरी कोशिश की। लेकिन अधिकांश स्टूडेंट्स के पास अच्छी इंटरनेट स्पीड और डिवाइस नहीं है। इसके कारण वे क्लास अटेंड नहीं कर पाते। इसलिए अब जब कोरोना के मामले कम हैं, तो स्टूडेंट्स के हित में स्कूल्स खोलना जरूरी है।'

हरियाणा सरकार का ऐलान :

बताते चलें, शुक्रवार को हरियाणा की सरकार ने 16 जुलाई से कक्षा 9 से 12वीं तक के लिए और 23 जुलाई से स्कूल छठी से 8वीं के लिए खोलने का ऐलान कर दिया है। हालांकि, यदि विद्यार्थियों को स्कूल बुलाया जाता है तो, इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क की अनिवार्यता रहेगी। इसके अलावा हालातों को मद्देनजर रखते हुए अन्य कक्षाओं के विद्यार्थियों को भी स्कूल बुलाया जा सकता है।

गुजरात सरकार का फैसला :

बताते चलें, गुजरात में 15 जुलाई से ग्रेजुएशन और पोस्टग्रेजुएशन ले किये कॉलेज और 12 वीं के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खोल दिए जाएंगे। इस बारे में जानकारी देते हुए गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा है कि, 'एक बार में सिर्फ 50% छात्रों को ही कैंपस में आने की इजाजत होगी। इस दौरान छात्रों को सहूलियत रहेगी कि वे स्वेच्छा से स्कूल आकर पढ़ाई कर सकते हैं। इस दौरान विद्यार्थियों की हाजिरी अनिवार्य नहीं होगी। वे चाहें तो ऑनलाइन माध्यम से घर पर रहकर भी पढ़ाई जारी रख सकते हैं।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co