भारत-अफगानिस्तान की वर्चुअल समिट में शहतूत डैम निर्माण के MoU पर हस्ताक्षर
भारत-अफगानिस्तान की वर्चुअल समिट में शहतूत डैम निर्माण के MoU पर हस्ताक्षरTwitter

भारत-अफगानिस्तान की वर्चुअल समिट में शहतूत डैम निर्माण के MoU पर हस्ताक्षर

भारत-अफगानिस्तान की वर्चुअल समिट में प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति अशरफ गनी ने हिस्सा लिया। इस दौरान दोनों देशों ने शहतूत डैम के निर्माण के MoU पर हस्ताक्षर किए...

दिल्‍ली, भारत। अफगानिस्तान और भारत के बीच मंगलवार को आयोजित वर्चुअल समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने हिस्सा लिया। इस दौरान दोनों देशों ने 286 मिलियन यूएस डॉलर वाले शहतूत डैम प्रोजेक्ट को लेकर एक अहम समझौता किया गया।

शहतूत डैम के निर्माण के MoU पर हस्ताक्षर :

वर्चुअल समिट में दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के अलावा भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर और उनके अफगानी समकक्ष मोहम्मद हनीफ अतमर भी मौजूद रहे। इस दौरान भारत-अफगानिस्तान दोनों देशो के विदेश मंत्रियों ने शहतूत डैम के निर्माण के MoU पर हस्ताक्षर किए। शहतूत डैम निर्माण के MoU पर हस्ताक्षर के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- हमें इस बात की खुशी है कि, शहतूत डैम के निर्माण से काबुल के लोगों को पेय जल और सिंचाई के लिए पानी की सुविधा मुहैया होगी।

आज हम भारत और अफगानिस्तान दोस्ती की लंबी राह में एक और मील का पत्थर रखने जा रहे हैं। भारत और अफगानिस्तान सिर्फ जियोग्राफी से ही नहीं बल्कि हमारे इतिहास और हमारे संस्कृति भी आपस में जुड़े रहे हैं और एक-दूसरे को प्रभावित करते रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भारत-अफगानिस्तान की दोस्ती और मजबूत :

PM मोदी ने बताया- नदियों के प्रति सम्मान भारत और अफगानिस्तान द्वारा साझा एक सांस्कृतिक परंपरा है। पिछले लगभग 2 दशकों से भारत-अफगानिस्तान विकास के प्रमुख साझेदारों में रहा है, कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा जैसे अनेक सेक्टरों में हमारी ये योजनाएं फैली है।विभिन्न परियोजनाओं के माध्यम से भारत और अफगानिस्तान की दोस्ती और मजबूत हुई है। यही दोस्ती यही निकटता कोरोना महामारी के बीच दिखती रही। हमारे लिए अफगानिस्तान की आवश्यकता महत्वपूर्ण रही है और रहेगी।

PM मोदी ने कहा, ''भारत ने हमेशा शांति प्रक्रिया का समर्थन किया है, जिसका नेतृत्व अफगानिस्तान और उसी के नियंत्रण में होगा। अफगानिस्तान के लोगों को एकजुट करना बहुत महत्वपूर्ण है, जो उन्हें किसी भी समस्या से लड़ने में मजबूत करेगा।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co