स्टाइरिन गैस के प्रभाव को रोकने के लिए बुलाया 500 किलो पीटीबीसी
स्टाइरिन गैस के प्रभाव को रोकने के लिए बुलाया 500 किलो पीटीबीसी|Kratik Sahu-RE
दक्षिण भारत

स्टाइरिन गैस के प्रभाव को रोकने के लिए बुलाया 500 किलो पीटीबीसी

विशाखापत्तनम में हुए जहरीली गैस स्टाइरिन के प्रभावों को कम करने के लिए केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा 500 किलो पीटीबीसी पदार्थ की तत्काल व्यवस्था की गई है। इस पदार्थ से जहरीली गैस का असर कम होता है।

Kratik Sahu

राजएक्सप्रेस। आन्ध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में जहरीली गैस स्टाइरिन के रिसाव के प्रभावों और नुकसान को कम करने के लिए, केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने गुजरात सरकार के साथ मिलकर 500 किलोग्राम पीटीबीसी पदार्थ की तत्काल व्यवस्था की है। बताया जा रहा हे की आन्ध्र प्रदेश सरकार के अनुरोध पर पीटीबीसी की 500 किलोग्राम की खेप विशाखापत्तनम पहुंचायी जा रही है।

पीटीबीसी ऐसा पदार्थ है जो जहरीली गैस के प्रभाव को और उससे हुए नुकसान को कम करने में सहायक है। इससे स्थिति पर जल्द नियंत्रण पाने और उसे सामान्य करने में मदद मिलती है। पीटीबीसी की व्यवस्था गुजरात की वापी नाम की एक कंपनी ने की है। यह पदार्थ केवल इसी कंपनी में बनाया जाता है। पीटीबीसी के खेप विशाखापत्तनम जा रही एनडीआरएफ की विशेषज्ञ टीम को उपलब्ध करायी गयी है जिससे वह इसे अपने साथ वहां ले जा सकें और समय की बर्बादी न हो।

गौरतलब है कि विशाखापत्तनम से 20 किलोमीटर दूर एक फैक्ट्री में बुधवार रात ढाई बजे गैस रिसाव होने के कारण 11 लोगों की मौत हो गयी और सैकड़ों प्रभावित लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co