Raj Express
www.rajexpress.co
आन्ध्रप्रदेश में शुरू हुई 'जगनन्ना अम्मा ओडी' योजना
आन्ध्रप्रदेश में शुरू हुई 'जगनन्ना अम्मा ओडी' योजना|ट्विटर
दक्षिण भारत

आन्ध्रप्रदेश: 'अम्मा-वोडी' योजना लागू, लाखों बच्चे होंगे लाभांवित

दक्षिण भारत के राज्य आन्ध्रप्रदेश में चालू हुई 'जगनन्ना अम्मा वोडी' योजना। इसके तहत पहली से दसवीं कक्षा तक पढ़ रहे विद्यार्थियों की माताओं के खाते में हर साल 15,000 हजार रूपए जमा किए जाएंगे।

प्रज्ञा

प्रज्ञा

राज एक्सप्रेस। आन्ध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री वाय. एस. जगन मोहन रेड्डी ने राज्य में 'जगनन्ना अम्मा वोडी' योजना शुरू की। योजना के तहत, पहली से दसवीं कक्षा तक पढ़ रहे विद्यार्थियों की माताओं के खाते में हर साल 15,000 हजार रूपए जमा किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने गुरुवार को पी. वी. के. एन. सरकारी डिग्री महाविद्यालय में इस योजना की शुरूआत की।

अम्मा वोडी योजना वाई. एस. आर. कांग्रेस पार्टी के नवरत्नालु योजनाओं में से एक है। योजना का लाभ आंध्र प्रदेश के 46,78,361 लाख लोगों को मिलेगा। इससे पहले अधिकारियों ने अम्मा वोडी कार्यक्रम की सभी तैयारियां पूरी की। योजना का उद्देश्य प्रदेश में संपूर्ण साक्षरता हासिल करना है। साथ ही गरीबी के कारण पढ़ाई न कर पाने वाले बच्चों तक शिक्षा पहुंचाना है।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, योजना के तहत राज्य के सभी ग्रामीण विद्यालयों में लाभार्थियों की सूची प्रदर्शित की गई है। अब तक 43 लाख माताओं की पहचान लाभार्थियों के रूप में की गई। सफेद राशनकार्ड, आधार कार्ड और बैंक खाते के आधार पर लाभार्थियों का चयन किया गया है। 'अम्मा वोडी' योजना के लिए 6,400 करोड़ रुपए का बजट मंज़ूर किया गया है। देश के किसी भी राज्य में लागू होने वाली यह अपनी तरह की पहली योजना है।

आन्ध्रप्रदेश के शिक्षा मंत्री आदिमुलपु सुरेश ने योजना के बारे में कहा था कि, "अम्मा वोडी योजना के अंतर्गत पारदर्शिता से लाभार्थियों का चयन किया गया है। राज्य के सभी गांवो के विद्यालयों में लाभार्थियों की सूची प्रदर्शित की गई है और अब तक 43 लाख माताओं को लाभार्थी बनाए जाने की सूची बनाई गयी है।"

उन्होंने आगे कहा था कि, '5 जनवरी से योजना के सभी लाभार्थियों को योजना का प्रायोगिक तौर पर लाभ मिलेगा। पहले चरण में लाभार्थियों के खाते में एक रुपया जमा किया जाएगा। वहीं 9 जनवरी को एक मुश्त में 15 हजार रुपये जमा किये जाएंगे।'

खबरों में यह भी बताया गया है कि, किसी कारणवश अगर लाभान्वितों का नाम अम्मा वोडी सूची में नहीं है तो वे फिर से ग्राम सचिवालय में आवेदन कर सकते हैं। अभी तक तैयार अम्मा वोडी योजना के लाभार्थियों की सूची रविवार को ग्राम सचिवालय में प्रदर्शित की जाएगी।

सूची में आपत्तियां और नये नामों को 2 जनवरी तक स्वीकार किया जाना तय हुआ था। जिसके बाद अंतिम सूची 9 जनवरी को प्रदर्शित की जानी थी और इसी दिन योग्य माताओं के खाते में 15 हजार रुपये जमा किए गए।

राज्य के नगरपालिका प्रशासन और शहरी विकास मंत्री बोत्सा सत्यनारायण ने कहा कि, 'प्रदेश सरकार ने 'जगनन्ना अम्मा वोडी' योजना का शुभारंभ कर शिक्षा क्षेत्र में विकास की गति बढ़ाई है। इतिहास के पन्नों पर लिखी जानेवाली यह एक आदर्श योजना है। योजना के माध्यम से लगभग 43 लाख बच्चों को लाभ मिलेगा। देश के अन्य किसी राज्य में इस तरह की योजना शुरू नहीं की गई है। इस योजना का आदर्श अन्य राज्यों को लेना चाहिए।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।