गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराकर बोले असदुद्दीन ओवैसी- नफरत पर बुलडोजर चलाया जाए, अन्याय का एनकाउंटर किया जाए

गणतंत्र दिवस के मौके पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, “मेरी पूरी आशा है कि नफरत पर बुलडोजर चलाया जाए, अन्याय का एनकाउंटर किया जाए और उत्पीड़न को खत्म किया जाए।”
- नफरत पर बुलडोजर चलाया जाए, अन्याय का एनकाउंटर किया जाए
- नफरत पर बुलडोजर चलाया जाए, अन्याय का एनकाउंटर किया जाएRaj Express
Submitted By:
Priyanka Sahu

हाइलाइट्स :

  • गणतंत्र दिवस के मौके पर हैदराबाद में कई जगहों पर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने तिरंगा फहराया

  • नफरत पर बुलडोजर चलाया जाए, अन्याय का एनकाउंटर किया जाए: असदुद्दीन ओवैसी

  • असदुद्दीन ओवैसी ने महिलाओं को मुफ्त सिलाई मशीनें वितरित कीं

हैदराबाद, तेलंगाना। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने आज शुक्रवार, 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर हैदराबाद के मुगलपुरा में मदरसा जमीयत उल मोमिनत में शुक्रवार को तिरंगा फहराया। साथ ही असदुद्दीन ओवैसी ने अपनी प्रतिक्रिया दी और गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी है।

गणतंत्र दिवस के मौके पर असदुद्दीन ओवैसी ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट एक्स (पहले ट्विटर) पर पोस्ट कर कहा, “मेरी पूरी आशा है कि नफरत पर बुलडोजर चलाया जाए, अन्याय का एनकाउंटर किया जाए और उत्पीड़न को खत्म किया जाए।”

महिलाओं को असदुद्दीन ओवैसी ने सिलाई मशीनें वितरित कीं :

हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने लड़कियों के लिए इस्लामी मदरसा मदरसा जामियातुल मोमिनत में आयोजित कार्यक्रम में भी शामिल हुए। यहां भी राष्ट्रीय ध्वज फहराया, इसके बाद उन्होंने महिलाओं के बीच मुफ्त सिलाई मशीनें वितरित कीं।

बता दें कि, आज 26 जनवरी 2024 को 75वां गणतंत्र दिवस का जश्‍न पूरे देश में देखा गया। कई जगहाें व संस्‍थानों में राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया। 26 जनवरी साल 1950 को भारत में संविधान लागू हो गया था। इसके लागू होते ही देश एक लोकतांत्रिक गणराज्य बन गया। भारतीय संविधान की गिनती विश्व के सबसे वृहद संविधान में होती है।

यह भी पढ़े-

- नफरत पर बुलडोजर चलाया जाए, अन्याय का एनकाउंटर किया जाए
गणतंत्र दिवस 2024 : जानिए क्यों है देश चलाने के लिए संविधान की आवश्यकता ?

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co