Satellite RISAT-2BR1
Satellite RISAT-2BR1 |Priyanak Sahu -RE
दक्षिण भारत

RISAT-2BR1 की लॉन्चिंग, देश की सीमाओं पर पैनी नजर रखना आसान

ISRO आज दोपहर 3:25 बजे नया उपग्रह रीसैट-2बीआर1 लॉन्च करेगा, अब अंतरिक्ष में भारत की दूसरी खुफिया आंख के जरिए चप्‍पे-चप्‍पे पर पैनी नजर रहेंगी।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

हाइलाइट्स :

  • आज 5 देशों के 10 सैटेलाइट की लॉन्चिंग

  • दोपहर 3:25 बजे पीएसएलवी-सी48 रॉकेट से होगा प्रक्षेपण

  • श्रीहरिकोटा के स्पेस सेंटर से भारतीय उपग्रह सैटेलाइट RiSAT-2BR1 लॉन्च

  • ताकतवर राडार इमेजिंग सैटेलाइट RISAT-2BR1 की खासियत

राज एक्‍सप्रेस। वर्ष 2019 में आज अर्थात 11 दिसंबर को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) नए सैटेलाइट 'रीसैट-2बीआर1' (Satellite RISAT-2BR1) की लॉन्चिंग होने वाली है, जिससे अब भारत देश की सीमाओं पर पैनी नजर बनाए रखना आसान होगा, क्‍योंकि यह सैटेलाइट भारतीय सीमाओं की सुरक्षा के लिहाज से काफी खास है।

शक्तिशाली रॉकेट के जरिए 10 सैटेलाइट लॉन्‍च :

ISRO द्वारा आज दोपहर 3:25 बजे भारतीय उपग्रह 'रीसैट-2बीआर1' के अलावा 4 अन्य देशों के 9 सैटेलाइट भी लॉन्च करने वाला है, यानी आज एक नहीं बल्कि 10 सैटेलाइटों की लॉन्चिंग होगी। सभी उपग्रहों को अपने शक्तिशाली रॉकेट पीएसएलवी-सी48 क्यूएल के जरिए पृथ्‍वी की कक्षा से दूर स्‍थापित किया जाएगा।

हालांकि, आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा द्वीप पर स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर में इस लॉन्चिंग को आम जनता को दिखाएं जाने के लिए पूरी व्यवस्था की गई है, यहां मौजूद लॉन्च व्यू गैलरी दर्शकों का इंतजार कर रही है, यहां करीब 5000 लोग एक साथ बैठकर रॉकेट का लॉन्च होते हुए देख सकते हैं।

RISAT-2BR1 की खासियत:

इस नए भारतीय सैटेलाइन RiSAT-2BR1 की खासीयत तो यह है कि, यह किसी भी मौसम, दिन व रात दोनों समय काम करेगा। रीसैट-2 सैटेलाइट का आधुनिक वर्जन है, साथ ही माइक्रोवेव फ्रिक्वेंसी पर काम करने वाला सैटेलाइट भी है, इस कारण इसे रडार इमेजिंग सैटेलाइट कहते हैं। साथ ही RiSAT-2BR1 सैटेलाइट बादलों के पार भी तस्वीरें लेने में सक्षम है, देश की सेनाओं के अलावा इस सैटलाइट से कृषि, जंगल और आपदा प्रबंधन विभागों को भी मदद मिलेगी।

कई गुना बढ़ेगी भारत की रडार इमेजिंग ताकत :

सबसे खास बात तो यह है कि, पृथ्‍वी की कक्षा में 'रीसैट-2बीआर1 सैटेलाइट' के स्‍थापित होने से भारत देश की रडार इमेजिंग ताकत कई गुना बढ़ जाएगी।

RISAT-2BR1 से जुड़ी कुछ खास जानकारी :

  • इस सैटेलाइट का वजन 628 किलोग्राम है।

  • RISAT-2BR1 भारतीय सैटेलाइट 5 सालों तक काम करेगा।

  • इस सैटेलाइट में 0.35 मीटर रिजोल्यूशन का कैमरा लगाया गया है।

  • यह 35 सेंटीमीटर की दूरी पर स्थित 2 चीजों की अलग-अलग व स्पष्ट पहचान कर सकेगा।

इन 5 देशों के 10 सैटेलाइट लॉन्‍च :

बता दें कि, आज 11 दिसंबर को 5 देशों के 10 सैटेलाइट की लॉन्चिंग है, जिसमें से भारत का एक सैटेलाइट, अमेरिका के 6 सैटेलाइट और जापान, इटली व इजराइल के 1-1 (नैनो) लॉन्‍च होंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co