निर्मला सीतारमण ने TN सरकार पर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम प्रसारण रोकने का लगाया आरोप, मंत्री ने किया खारिज

तमिलनाडु के मंत्री पी.के. शेखरबाबू ने कहा, सेलम में डीएमके युवा सम्मेलन से लोगों का ध्यान हटाने की कोशिश में गलत सूचना फैलाने की कड़ी निंदा करता हूं।
तमिलनाडु के मंत्री पी.के. शेखरबाबू, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
तमिलनाडु के मंत्री पी.के. शेखरबाबू, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमणRaj Express
Submitted By:
Deeksha Nandini

हाइलाइट्स

  • निर्मला सीतारमण का आरोप - TN सरकार प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम को प्रसारित करने से रोक रही।

  • तमिलनाडु के मंत्री पी.के. शेखरबाबू ने इसे अफवाह बताकर किया ख़ारिज।

  • कहा, कार्यालय में बैठे लोग जानबूझकर इस गलत जानकारी का प्रचार कर रहे हैं।

तमिलनाडु। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रविवार को तमिलनाडु सरकार गंभीर आरोप लगाए है। उन्होंने तमिलनाडु सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि, तमिलनाडु में अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के लाइव प्रसारण को देखने पर राज्य सरकार ने प्रतिबन्ध लगाया है, लेकिन इसे तमिलनाडु के मंत्री पी.के. शेखरबाबू ने सिरे से ख़ारिज किया है और गलत अफवाह फैलाने की निंदा की हैं।

हिंदू धार्मिक और धर्मार्थ बंदोबस्ती (एचआर एंड सीई) मंत्री पी.के. शेखर बाबू ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल से पोस्ट शेयर कर कहा कि, सेलम में डीएमके युवा सम्मेलन से लोगों का ध्यान हटाने की कोशिश में गलत सूचना फैलाने की कड़ी निंदा करता हूं। हिंदू धार्मिक और धर्मार्थ बंदोबस्ती विभाग ने तमिलनाडु के मंदिरों में भक्तों की भोजन चढ़ाने, श्री राम के नाम पर पूजा आयोजित करने या प्रसाद प्रदान करने की स्वतंत्रता पर कोई सीमा नहीं लगाई है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और अन्य जैसे कार्यालय में बैठे लोग जानबूझकर इस गलत जानकारी का प्रचार कर रहे हैं।

 मंत्री पी.के. शेखर बाबू का ट्वीट
मंत्री पी.के. शेखर बाबू का ट्वीट

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किया था ट्वीट :

दरअसल, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रविवार को अपने आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट पर ट्वीट कर कहा कि, तमिलनाडु सरकार ने 22 जनवरी 2024 के अयोध्या राम मंदिर कार्यक्रमों के लाइव प्रसारण को देखने पर प्रतिबंध लगा दिया है। तमिलनाडु में श्री राम के 200 से अधिक मंदिर हैं। एचआर एंड सीई प्रबंधित मंदिरों में कोई पूजा/भजन/प्रसादम/अन्नदानम नहीं है।" श्री राम के नाम की अनुमति है। पुलिस निजी तौर पर आयोजित मंदिरों को भी कार्यक्रम आयोजित करने से रोक रही है। वे आयोजकों को धमकी दे रहे हैं कि वे पंडालों को तोड़ देंगे। इस हिंदू विरोधी, घृणित कार्रवाई की कड़ी निंदा करते हैं।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का ट्वीट
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का ट्वीट

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co