Saffron Flag Issue : VHP, BJP, बजरंग दल और RSS समर्थित लोगों द्वारा भड़काई जा रही आग - मंत्री प्रियांक खड़गे

Mandya Saffron Flag Issue : मंत्री प्रियांक खड़गे ने कहा, बहुत स्पष्ट रूप से, ध्वज स्तंभ का उद्देश्य कन्नड़ ध्वज या राष्ट्रीय ध्वज फहराना था। दुर्भावनापूर्ण इरादे से, उन्होंने भगवा झंडा लगाया है।
Minister Priyank Kharge on Mandya Saffron Flag Issue
Minister Priyank Kharge on Mandya Saffron Flag IssueRaj Express
Submitted By:
Deeksha Nandini

हाइलाइट्स

  • मांड्या के भगवा झंडे के मुद्दे को लेकर कर्नाटक मंत्री ने भजपा पर साधा निशाना।

  • कहा - BJP के लोगों द्वारा मांड्या में भड़का रही आग।

  • दुर्भावनापूर्ण इरादे से उन्होंने भगवा झंडा लगाया ।

Minister Priyank Kharge on Mandya Saffron Flag Issue : बेंगलुरु। मांड्या में उबाल नहीं है। आग VHP, BJP, बजरंग दल और RSS समर्थित उनके जैसे लोगों द्वारा भड़काई जा रही है। उनके लिए, राष्ट्रीय झंडे का कोई महत्व नहीं है। उनके लिए, राष्ट्रीय झंडे का कोई महत्व नहीं है। यह बात कर्नाटक के मंत्री प्रियंक खड़गे ने गुरूवार को मांड्या के भगवा झंडे के मुद्दे पर मीडिया को प्रतिक्रिया देते हुए कही है।

कर्नाटक के मंत्री प्रियांक खड़गे ने आगे कहा कि, वे ग्राम पंचायत की कार्यवाही में हस्तक्षेप क्यों कर रहे हैं? बहुत स्पष्ट रूप से, ध्वज स्तंभ का उद्देश्य कन्नड़ ध्वज या राष्ट्रीय ध्वज फहराना था। दुर्भावनापूर्ण इरादे से, उन्होंने भगवा झंडा लगाया है। लोग अपने घरों में कुछ भी लगाने के लिए स्वतंत्र हैं लेकिन आप सरकारी संपत्ति पर कुछ भी नहीं लगा सकते।

यह है मामला :

दरअसल, मंड्या जिले के केरागोडू गाँव में ग्रामीणों ने आपस में चंदा इकट्ठा करके एक 108 फीट लंबा पोल स्थापित किया था। इस पर भगवा ध्वज लगा था और आंजनेय (हनुमान जी को यहाँ आंजनेय कहा जाता है) की छवि थी। इसे गाँव के रंगमंदिर के पास लगाया गया था। इसके लिए ग्राम पंचायत की भी अनुमति ले ली गई थी। मंड्या के प्रशासन ने शनिवार (27 जनवरी, 2024) को यहाँ पहुँच कर पोल से ध्वज हटा दिया था। यहाँ ध्वज हटाने के लिए प्रशासन भारी संख्या में पुलिस बल लाया था। इस दौरान यहाँ प्रदर्शन कर रहे हिन्दुओं पर लाठीचार्ज भी किया गया। इस प्रदर्शन में भाजपा, जेडीएस और बजरंग दल के कार्यकर्ता भी शामिल हुए।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co