महामारी की बढ़ती भयावहता पर SC ने इन राज्यों को फटकारा व मांगी रिपोर्ट
महामारी की बढ़ती भयावहता पर SC ने इन राज्यों को फटकारा व मांगी रिपोर्टSocial Media

महामारी की बढ़ती भयावहता पर SC ने इन राज्यों को फटकारा व मांगी रिपोर्ट

देश के जिन राज्यों में कोरोना से हालात बिगड़े हैँ, इस पर सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली, महाराष्ट्र, असम और गुजरात की जमकर क्लास ली और फटकारते हुए कोरोना से निपटने के लिए उठाए कदमों की स्टेटस रिपोर्ट मांगी।

नई दिल्‍ली। देश के कई राज्‍यों में महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार तेज है। इस दौरान जिन राज्यों में कोरोना से हालात बिगड़े हुए, उन राज्‍यों की देश की शीर्ष अदालत यानी सुप्रीम कोर्ट ने आज सोमवार को सुनवाई हुई।

कौन से है ये राज्‍य :

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात और असम में कोविड-19 महामारी की बढ़ती भयावहता के बीच कोविड -19 रोगियों के समुचित उपचार और अस्पतालों में कोरोना रोगियों के शवों के साथ गरिमापूर्ण व्यवहार मामले पर सुनवाई के दौरान जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने राज्यों सरकारों को फटकारते हुए कोरोना से निपटने के लिए उठाए कदमों का स्टेटस बताने को कहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने राज्यों से मांगी ताजा स्टेटस रिपोर्ट :

इसके अलावा जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली खंडपीठ द्वारा ये भी कहा गया केन्द्र सरकार से किस तरह की मदद चाहते हैं यह भी बताएं। सुप्रीम कोर्ट ने कहा- हम सुन रहे हैं कि इस महीने में केसों में भारी बढोतरी हुई है, हम सभी राज्यों से एक ताजा स्टेटस रिपोर्ट चाहते हैं, यदि राज्य अच्छी तरह से तैयारी नहीं करते तो दिसंबर में इससे भी बदतर चीजें हो सकती हैं।

दिल्ली में हालात बदतर हो गए हैं, हम चाहते ह़ैं कि सरकार ने क्या व्यवस्था की है, उस पर विस्तार से हलफनामा दाखिल किया जाए।

जस्टिस अशोक भूषण

तो वहीं, दिल्ली सरकार की तरफ से एडिशनल सालिस्टर जनरल संजय जैन सुप्रीम कोर्ट को बताया, 'स्थिति अब तक ठीक है, 380 शव दाह केन्द्र हैं।'

इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र और असम में तेजी से मौजूदा समय बढ़ रहे कोविड मामलों की स्थिति से निपटने के लिए उठाए गए कदमों, मरीज़ों के प्रबंधन और वर्तमान स्थिति पर इन चार राज्यों से रिपोर्ट मांगी है। साथ ही बेंच ने इस बात पर चिंता जाहिर कि, नवंबर के महीने में दिल्ली, महाराष्ट्र, और गुजरात में कोविड-19 के मामलों में इजाफा आया है, ये सभी राज्य अपनी स्टेटस रिपोर्ट अगली सुनवाई में दाखिल करें।

गुजरात सरकार को फटकारते हुए SC का कहना :

गुजरात सरकार को फटकारते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा- दिल्ली, महाराष्ट्र के बाद गुजरात में कोरोना से स्थिति ज्यादा खराब है। इसके बावजूद राज्य सरकार ने शादियों के लिए छूट दे रखा है। सरकार की खिंचाई करते हुए जस्टिस एम आर शाह ने राज्य सरकार के वकील से पूछा, यह सब क्या है। आपकी पालिसी क्या है? यह सब क्या हो रहा है?

चार राज्यों में हालात बहुत खराब :

बता दें, अदालत ने कहा कि, चार राज्यों में हालात बहुत खराब हैं। लापरवाही के चलते कोविड महामारी बढ़ रही है। अब सुप्रीम कोर्ट में पूरे मामले की अगली सुनवाई शुक्रवार 27 नवंबर को होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co