भारत में 1 नवंबर को मनाया जाता है 5 राज्यों का स्थापना दिवस

भारत के 5 राज्यों के लिए 1 नवंबर का दिन विशेष है जानिए किन राज्यों का स्थापना दिवस 1 नवंबर को मनाया जाता है।
भारत में 1 नवंबर को मनाया जाता है 5 राज्यों का स्थापना दिवस
भारत में 1 नवंबर को मनाया जाता है 5 राज्यों का स्थापना दिवसSocial Media

भारत के सभी राज्य अपनी संस्कृति वेशभूषा और भाषा के लिए मशहूर हैं। हर राज्य की अपनी एक संस्कृति है और उसके साथ ही राज्य की स्थापना का एक इतिहास भी है। सभी राज्य अपने स्थापना दिवस को मनाते हैं एवं राज्य की सांस्कृतिक पृष्ठभूमि को विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से विश्व पटल पर रखते हैं। आज भारत के 5 राज्यों का स्थापना दिवस है आइए जानते हैं इन पांच राज्यों के बारे में...

मध्य प्रदेश

1 नवंबर 1956 में अस्तित्व में आए इस प्रदेश को पहले मध्य भारत कहकर संबोधित किया जाता था। इसका पुनर्गठन भाषायी आधार पर हुआ. डॉ. पट्टाभि सीतारामैया मध्यप्रदेश के पहले राज्यपाल हुए। जबकि पहले मुख्यमंत्री के रूप में पं. रविशंकर शुक्ल ने शपथ ली थी। वहीं पं. कुंजी लाल दुबे को मध्यप्रदेश का पहला अध्यक्ष बनने का गौरव प्राप्त हुआ। मध्य प्रदेश को नदियों का मायका एवं टाइगर स्टेट भी कहा जाता है।

हरियाणा

हरियाणा उत्तर भारत का एक राज्य है जिसकी राजधानी चण्डीगढ़ है। इस राज्य की स्थापना 1 नवंबर 1966 को हुई यह राज्य वैदिक सभ्यता और सिंधु घाटी सभ्यता का मुख्य निवास स्थान है। इस क्षेत्र में विभिन्न निर्णायक लड़ाइयां भी हुई हैं जिसमें भारत का अधिकतर इतिहास समाहित है। इसमें महाभारत का महाकाव्य युद्ध भी शामिल है।

कर्नाटक

भारत के दक्षिण में स्थित कर्नाटक जिसे कर्णाटक भी कहते हैं, दक्षिण भारत का एक राज्य है। इस राज्य का गठन 1 नवंबर, 1956 को राज्य पुनर्गठन अधिनियम के अधीन किया गया था। पहले यह मैसूर राज्य कहलाता था। 1973 में पुनर्नामकरण कर इसका नाम कर्नाटक कर दिया गया था।

केरल

1 नवंबर 1956 में तिरुकोच्चि के साथ मलाबार को भी जोड़ा गया और इस तरह वर्तमान केरल की स्थापना 1 नवंबर 1956 को हुई। इसीलिए इस तारीख को केरल का भी भी स्थापना दिवस मनाया जाता है।

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ राज्य का गठन 1 नवम्बर 2000 को हुआ था। यह भारत का 26वां राज्य है। भारत में दो क्षेत्र ऐसे हैं जिनका नाम विशेष कारणों से बदल गया - एक तो 'मगध' जो बौद्ध विहारों की अधिकता के कारण "बिहार" बन गया और दूसरा 'दक्षिण कौशल' जो छत्तीसगढ़ों को अपने में समाहित रखने के कारण "छत्तीसगढ़" बन गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co