प्रियंका गांधी के आरोपों को जनता ने नकारा, ट्विटर पर सपोर्ट
प्रियंका गांधी के आरोपों को जनता ने नकारा, ट्विटर पर सपोर्ट|Social Media
भारत

प्रियंका गांधी के आरोपों को जनता ने नकारा, ट्विटर पर सपोर्ट

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने जिस उत्तर प्रदेश महिला पुलिस अधिकारी पर उनका गला पकड़ने का आरोप लगाया है, इस मामले को लेकर महिला पुलिस की तारीफ की जा रही।

Sudha Choubey

Sudha Choubey

राज एक्सप्रेस। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने जिस उत्तर प्रदेश महिला पुलिस अधिकारी पर उनका गला पकड़ने का आरोप लगाया है, उस महिला पुलिस की तारीफ की जा रही और सोशल मीडिया पर #IStandWithArchanaSingh ट्रेंड किया जा रहा है।

यह है मामला :

आपको बता दें कि, बीते दिन शनिवार को कांग्रेस के स्थापना दिवस के मौके पर प्रियंका गांधी लखनऊ पहुंची थी। उन्होंने उत्तर प्रदेश पुलिस पर बदसूलकी का आरोप लगाते हुए कहा कि, उत्तर प्रदेश ने उन्हें जगह-जगह रोकने की कोशिश की गयी। उनका आरोप है कि, लोहिया पथ पर उनका गला पकड़ा गया और उन्हें धक्का दिया गया। उन्होंने ये सारी बातें फेसबुक पर पोस्ट की थीं।

पुलिस अधिकारी ने आरोपों को झूठा बताया :

उत्तर प्रदेश के एक पुलिस अधिकारी ने आरोपों को झूठा बताया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (प्रोटोकॉल) को सम्बंधित पत्र में, सर्किल ऑफिसर मॉडर्न कंट्रोल रूम, डॉ. अर्चना सिंह ने कहा, "सोशल मीडिया पर कई चीजें (जैसे मैनहैंडलिंग और गर्दन पकड़ना) प्रसारित की जा रही हैं, जो पूरी तरह से असत्य है। मैंने पूरी ईमानदारी के साथ अपने कर्तव्य का निर्वहन किया है।"

ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #IStandWithArchanaSingh :

वहीं इस मामले में प्रियंका गांधी के आरोप को लेकर सोशल मीडिया पर जमकर बहस चल रही है। सुबह से महिला पुलिस अधिकारी के समर्थन में ट्विटर पर प्रतिक्रियाओं की बाढ़ आ गयी और ट्विटर पर ट्रेंड हो रहा है-#IStandWithArchanaSingh

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।

Raj Express
www.rajexpress.co