Raj Express
www.rajexpress.co
उद्धव ठाकरे ने 169 विधायकों के समर्थन से पास किया फ्लोर टेस्ट
उद्धव ठाकरे ने 169 विधायकों के समर्थन से पास किया फ्लोर टेस्ट|Social Media
भारत

उद्धव ठाकरे ने 169 विधायकों के समर्थन से पास किया फ्लोर टेस्ट

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव की इतनी उठापटक के बाद आज उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली 'महा विकास अघाड़ी सरकार' ने फ्लोर टेस्ट पास कर ही लिया।

Ankit Dubey

राज एक्सप्रेस। महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव की इतनी उठापटक के बाद आज उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली 'महा विकास अघाड़ी सरकार' ने फ्लोर टेस्ट पास कर ही लिया। अघाड़ी सरकार ने 169 विधायकों का समर्थन विधानसभा में साबित कर दिखाया है। इससे पहले बीजेपी ने सदन से वॉक आउट कर दिया और महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष ने भयंकर हंगामा किया पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि नियमों के खिलाफ अधिवेशन बुलाया गया है, पूर्व मुख्यमंत्री का कहना था कि, "वंदे मातरम से विधानसभा की कार्यवाही शुरू क्यों नहीं की गई?"

तीन दलों को मिलाकर बनी है महाराष्ट्र में सरकार

महाराष्ट्र में इस सरकार के बनने के पीछे तीन दल शामिल हैं, जिनका नाम है शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस। रविवार को विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। जिसके बाद राज्यपाल के अभिभाषण पर सदन में धन्यवाद प्रस्ताव पेश किया जाना है, नए विधानसभा अध्यक्ष इसके बाद विधानसभा में नेता विपक्ष के नाम की घोषणा भी करेंगे। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने ठाकरे को बहुमत साबित करने के लिए 3 दिसंबर तक की अनुमति दी थी। प्रदेश की 288 सदस्यों वाली विधान सभा में सत्ताधारी गठबंधन ने 162 विधायकों के समर्थन का दावा पेश किया था। मुख्यमंत्री पद ढाई-ढाई साल रखने के मुद्दे को लेकर शिवसेना ने अपने गठबंधन सहयोगी भाजपा से रिश्ते पहले ही तोड़ रखे थे। इसके बाद उन्होंने राकांपा और कांग्रेस के साथ मिलकर यह सरकार बना ली है।

21 अक्टूबर को हुए थे चुनाव

महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को चुनाव संपन्न हुए थे, जिसमें भाजपा को 105 सीटें हासिल हुई थी और वह सबसे बड़े दल के रूप में इस चुनाव में जीतते हुए दिखे थे। इस चुनाव में शिवसेना को 56 सीट राकांपा को 54 और 44 सीटें कांग्रेस को मिली थी। राकांपा के बड़े नेता दिलीप वलसे पाटिल को शुक्रवार को महाराष्ट्र विधानसभा का अस्थायी अध्यक्ष बनाया गया था। उन्होंने भाजपा के कालिदास कोलंबकर की जगह ली थी। पूर्व की बात करें तो दिलीप वलसे पाटिल पहले भी विधानसभा अध्यक्ष के रूप में कार्य कर चुके हैं। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण की थी ठाकरे के अलावा शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के अन्य मंत्रियों ने भी शपथ ली थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।