दिल्ली में आज इन इलाकों में चल रहा अतिक्रमण विरोधी अभियान
दिल्ली में आज इन इलाकों में चल रहा अतिक्रमण विरोधी अभियानSocial Media

दिल्ली में आज इन इलाकों में चल रहा अतिक्रमण विरोधी अभियान

दिल्ली में नगर निगम के अधिकारी अतिक्रमण के खिलाफ अलग-अलग जगहों पर कार्रवाई कर रहे हैं। अब आज उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने इन इलाकों में अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया।

दिल्ली, भारत। राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में अवैध अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई का दौर जारी है और अतिक्रमण का अभियान चल रहा है। शाहीन बाग, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी के बाद अब आज गुरूवार को इन इलाकों में अतिक्रमण विरोधी अभियान चल रहा है। दिल्‍ली में एक तरफ अतिक्रमण अभियान, तो दूसरी और अतिक्रमण विरोधी अभियान चल रहा है।

इन इलाकों में अतिक्रमण विरोधी अभियान :

दरअसल, नगर निगम के अधिकारी अतिक्रमण के खिलाफ अलग-अलग जगहों पर कार्रवाई कर रहे हैं। आज उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने अमर कॉलोनी में अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया है। तो वहीं, रोहिणी में भी आज केएन काटजू मार्ग पर MCD ने अतिक्रमण विरोधी अभियान चल रहा है।

मदनपुर खादर इलाके में अतिक्रमण हटाने पहुंची SDMC :

इसके अलावा दिल्ली के मदनपुर खादर इलाके में SDMC अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंची तो यहां पर लोगों ने इसके ख़िलाफ विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान AAP विधायक अमानतुल्लाह खान का रिएक्‍शन आया, जिसमें उन्‍होंने कहा-

यहां ये (SDMC) लोगों के मकान तोड़ रहे हैं। एक मकान से इन्होंने 40 लाख रुपए तक लिए हैं। अतिक्रमण हटाने पर हम इनके साथ थे, लेकिन ये लोगों के घर तोड़ रहे हैं। यहां कॉलोनियों में रोड, नालियां, बिजली की लाइन, खंबे मैंने बनवाए हैं।

AAP विधायक अमानतुल्लाह खान

बता दें कि, सबसे पहले बीते सोमवार को शाहीन बाग क्षेत्र से अवैध अतिक्रमण के खिलाफ अभियान के तहत कार्रवाई शुरू की गई थी। हालांकि, शाहीन बाग में लोगों के हाई वोल्टेज ड्रामे के कारण निगम की कार्रवाई नहीं हो सकी और MCD का बुलडोजर अवैध अतिक्रमण को हटाए बगैर वापस लौट गया और शाहीन बाग इलाके के अतिक्रमण विरोधी अभियान का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, तो कोर्ट ने शाहीन बाग इलाके में एमसीडी के अतिक्रमण विरोधी अभियान को लेकर दायर याचिकाओं पर विचार करने से इंकार कर याचिकाकर्ताओं को दिल्‍ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाने का निर्देश दिया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.