नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की बैठक में CM केजरीवाल ने इस बात पर दिया जोर
नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की बैठक में CM केजरीवाल ने इस बात पर दिया जोरTwitter

नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की बैठक में CM केजरीवाल ने इस बात पर दिया जोर

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की बैठक को संबोधित कर कहा-केंद्र सरकार और सभी राज्य सरकारें मिलकर देशभर में विनिर्माण हब बनाए।

दिल्‍ली, भारत। नीति आयोग की गवर्निंग काउंसिल की आज (20 फरवरी) काे हुई बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हिस्सा लिया।

हमारे युवाओं के पास नए आइडिया और ऊर्जा है :

इस दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी ने नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की बैठक को संबोधित किया और कहा कि, ''हमारे युवाओं के पास नए आइडिया हैं, ऊर्जा है। उन्हें नए बिजनेस शुरू करने के लिए सभी सुविधाएँ और कैपिटल दिए जाने की ज़रूरत है।''

पिछले 70 साल में मैन्युफ़ैक्चरिंग पर ध्यान नहीं दिया गया, देश को इस दिशा में युद्ध स्तर पर काम करने की ज़रूरत है, इस क्षेत्र में भारत चीन को पीछे छोड़ सकता है।
अरविंद केजरीवाल, दिल्‍ली के मुख्यमंत्री

बड़े स्तर पर मैन्युफ़ैक्चरिंग हब बनाने की ज़रूरत :

नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल बैठक को संबोधित करते हुए CM अरविंद केजरीवाल ने ये भी कहा कि, ''देश भर में बड़े स्तर पर मैन्युफ़ैक्चरिंग हब बनाए जाने की ज़रूरत है जहां सस्ता माल बनाने के लिए सारी सुविधाएँ उपलब्ध हों और टैक्स में भी राहत दी जाए, ख़ासकर छोटे और मध्यम वर्ग के उद्योगों को तवज्जो दी जाए।''

दिल्‍ली के मुख्यमंत्री CM अरविंद केजरीवाल द्वारा इस बात पर भी जोर दिया गया कि, ''हमारे बाजारों में जिस तरह चीन के प्रोडक्ट्स भारत के प्रोडक्ट्स को रिप्लेस करते जा रहे हैं, केंद्र सरकार और सभी राज्य सरकारें मिलकर देशभर में विनिर्माण हब बनाए। आज देश का युवा नए उद्योग शुरू करने के लिए तत्पर है। स्टार्टअप को बहुत बड़े स्तर पर बढ़ाने की जरूरत है। इससे नए रोज़गार बहुत बड़े स्तर पर पैदा किए जा सकते हैं।''

बता दें कि, आज सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए नीति आयोग की 6वीं गवर्निंग काउंसिल की बैठक की अध्यक्षता की थी और राज्यों से आग्रह करते हुए कहा कि, आज़ादी के 75 वर्ष के लिए अपने-अपने राज्यों में समाज के सभी लोगों को जोड़कर समितियों का निर्माण हो।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co