जम्मू के सैनिक कॉलोनी में गुलाम आजाद की जनसभा, नई पार्टी बनाएंगे पर कही यह बात

जम्मू के सैनिक कॉलोनी में जनसभा को संबोधित करते हुए गुलाम नबी आजाद ने अपना संबोधन दिया और बताया कि, कांग्रेस आगे क्यों नहीं बढ़ रही...
जम्मू के सैनिक कॉलोनी में गुलाम आजाद की जनसभा
जम्मू के सैनिक कॉलोनी में गुलाम आजाद की जनसभाSocial Media

जम्मू कश्मीर, भारत। पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के पूर्व वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आज़ाद आज रविवार को जम्मू दौरे पर पहुंचे है, इस दौरान उन्होंने सैनिक कॉलोनी में एक जनसभा को संबोधित किया। साथ ही कांग्रेस से अलग होने के बाद अब गुलाम नबी आजाद ने अपनी नई पार्टी बनाएंगे,इसके बारे में आज उन्होने जम्मू में बयान भी दिया।

गुलाम नबी आजाद ने जनसभा को किया संबोधित :

इस दौरान जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस के पूर्व नेता गुलाम नबी आजाद ने जम्मू के सैनिक कॉलोनी में हो रही जनसभा में अपने समर्थकों से मुलाकात की। इसके बाद जम्मू के सैनिक कॉलोनी में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस के पूर्व नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि, ''आज मैं देखता हूं कि कांग्रेस के लोगों को जब सुबह बस से जेल में ले जाया जाता है और वे उसी समय DG एवं पुलिस कमिश्नर को फोन करते हैं और कहते हैं कि हमारा नाम लिख लीजिए और हमें 1 घंटे में छोड़ दीजिए इसलिए आज कांग्रेस आगे नहीं बढ़ पा रहा है।"

वो लोग जो हमें बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं, उनकी पहुंच सिर्फ ट्विटर, कंप्यूटर और SMS पर है इसलिए कांग्रेस जमीन से गायब हो गई है।

कांग्रेस के पूर्व नेता गुलाम नबी आजाद

गुलाम नबी बनाएंगे नई पार्टी :

जम्मू में उन्होंने कहा कि, ''नई पार्टी बनाएंगे। पार्टी का झंडा ऐसा होगा, जिसे हर धर्म का आदमी स्वीकार करे। पार्टी का झंडा और नाम कश्मीर की अवाम तय करेगी। मेरी नई पार्टी बनाने से उनमें बौखलाहट है, लेकिन मैं किसी का बुरा नहीं चाहता हूं।''

ग़ुलाम आजाद की पार्टी के 3 एजेंडा-

1. जम्मू-कश्मीर को राज्य का दर्जा।
2. बाहरी आदमी जमीन न खरीदे।
3. नौकरी केवल जम्मू-कश्मीर के लोगों को मिले।

आगे उन्होंने यह भी कहा, ''कांग्रेस हमने बनाई है, अपने खून-पसीने से बनाई है। कांग्रेस कम्प्यूटर और ट्विटर से नहीं बनी है। जो लोग हमें बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं, उनकी पहुंच केवल कम्प्यूटर और ट्वीट्स तक है। यही वजह है कि कांग्रेस अब जमीन पर कहीं नहीं दिखाई देती। वो लोग डिबेट में खुश रहें, उन्हें वही नसीब हो। हम बुजुर्गों, किसानों के साथ ठीक हैं। उन्हें उनकी बादशाहत मुबारक।''

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co