गुलाम नबी आजाद ने PM मोदी की तारीफ कर कहा-लोगों को उनसे सीख लेनी चाहिए
गुलाम नबी आजाद ने PM मोदी की तारीफ कर कहा-लोगों को उनसे सीख लेनी चाहिएPankaj Baraiya - RE

गुलाम नबी आजाद ने PM मोदी की तारीफ कर कहा-लोगों को उनसे सीख लेनी चाहिए

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने आज PM मोदी की तारीफ करते हुए कहा- हमें अपनी मूल विनम्रता और लोगों को नहीं भूलना चाहिए। लोगों को नरेंद्र मोदी से सीख लेनी चाहिए...

जम्मू-कश्मीर, भारत। राज्यसभा से रिटायर हो चुके जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है।

ज़मीन से जुड़े आदमी हैं PM मोदी :

दरअसल, गुलाम नबी आजाद ने गुज्जर समुदाय के एक कार्यक्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने PM मोदी को जमीन से जुड़ा हुआ नेता बताते हुए कहा है कि, "हमें अपनी मूल विनम्रता और लोगों को नहीं भूलना चाहिए। लोगों को नरेंद्र मोदी से सीख लेनी चाहिए, जो प्रधानमंत्री बन गए लेकिन अपनी जड़ों को नहीं भूले। कामयाबी की बुलंदियों पर जाकर भी कैसे अपनी जड़ों को याद रखा जाता है।''

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद ने पीएम मोदी के बचपन में चाय बेचने की घटना का जिक्र करते हुए ये बात भी कही कि, उन्होंने अपनी असलियत नहीं छिपाई।

बहुत से लीडरों की बहुत सी बातें अच्छी लगती हैं। मैं खुद गांव का हूं और बहुत फक्र होता है। हमारे पीएम मोदी भी कहते हैं गांव से हैं, कहते हैं कि बर्तन मांजता था, चाय बेचता था, निजी तौर पर हम उनके खिलाफ हैं, लेकिन जो अपनी असलियत नहीं छिपाते, यदि आपने अपनी असलियत छिपाई तो आप मशीनरी दुनिया में जी रहे होते हैं।

गुलाम नबी आजाद

कश्मीर की अर्थव्यवस्था को लेकर रखी राय :

राज्यसभा में विपक्ष के नेता रहे गुलाम नबी आजाद ने पीएम के साथ राजनीतिक मतभेदों का जिक्र कर उनकी तारीफ की तो कश्मीर की अर्थव्यवस्था को लेकर भी अपनी राय रखी। और कहा- हमें पहले जम्मू कश्मीर की आर्थिक स्थिति को ठीक करना होगा। इसके लिए मंत्र भी दिया और कहा कि, विकास के काम को तीन गुना करना होगा. आजाद ने लगे हाथ केंद्र सरकार की ओर से मिलने वाला फंड बढ़ाने की भी मांग कर डाली और कहा कि दिल्ली से तीन-चार गुना अधिक पैसा मिलना चाहिए।

गौरतलब है कि, गुलाम नबी आजाद के रिटायरमेंट पर राज्यसभा में PM मोदी ने उनकी जमकर तारीफ की थी और उनसे जुड़ी एक घटना को याद करके भावुक भी हो गए थे।

बता दें, गुलाम नबी आजाद पार्टी के उन 23 नेताओं में प्रमुख चेहरा हैं जो संगठन चुनाव की मांग को लेकर मोर्चा खोल चुके हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co