विरोध प्रदर्शन कर रहे रेजिडेंट डॉक्टर्स संग मंडाविया की बैठक-कहीं यह अहम बात
विरोध प्रदर्शन कर रहे रेजिडेंट डॉक्टर्स संग मंडाविया की बैठक Social Media

विरोध प्रदर्शन कर रहे रेजिडेंट डॉक्टर्स संग मंडाविया की बैठक-कहीं यह अहम बात

NEET-PG काउं​सलिंग में हो रही देरी को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे रेजिडेंट डॉक्टर के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बैठक की और डॉक्टरों से ड्यूटी ज्वाइन करने की अपेक्षा की।

दिल्ली, भारत। राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में NEET-PG काउंसिलिंग में देरी के विरोध में प्रदर्शन कर रहे डॉक्टर और दिल्ली पुलिस आमने-सामने आ गए हैं। इस बीच इस मामले को लेकर यानी NEET PG काउं​सलिंग में हो रही देरी को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे रेजिडेंट डॉक्टर के साथ आज मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बैठक की।

डॉक्टरों से की यह अपेक्षा :

इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा- रेजिडेंट डॉक्टर तुरंत काउंसलिंग शुरू करने के लिए कई दिनों से अपना विरोध दर्ज़ कर रहे हैं। सभी रेजिडेंट डॉक्टर के साथ आज मेरी विस्तार से बैठक हुई। सुप्रीम कोर्ट में केस होने से हम काउंसलिंग नहीं कर पा रहे हैं।

मैं सभी डॉक्टरों से अपेक्षा करता हूं कि कोविड के संकट में हमारे देश के नागरिकों, मरीज़ों को दिक्कत न हो उसके लिए अपनी ड्यूटी ज्वाइन कर लें।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया

6 जनवरी को कोर्ट में सुनवाई :

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बताया कि, ''6 जनवरी को कोर्ट में सुनवाई है इससे पहले भारत सरकार की ओर से हम सुप्रीम कोर्ट में रिपोर्ट जमा कर देंगे। हमारे डॉक्टर कल जब धरना दे रहे थे तब उनके साथ पुलिस की ओर से दुर्व्यवहार हुआ हो तो उसके लिए मैं खेद व्यक्त करता हूं।''

दिल्ली के प्रमुख सरकारी अस्पतालों के रेजिडेंट डॉक्टरों का कहना है कि, ''जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो जाती वे अपना आंदोलन जारी रखेंगे।'' तो वहीं, फेडरेशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (FORDA) के मंगलवार को कहा कि, ''हमने अपनी मांगें पूरी होने तक सफदरजंग अस्पताल से अपना विरोध जारी रखने का फैसला किया है।''

बता दें कि, बीते दिन सोमवार को पुलिस के साथ झड़प हो गई थी, यह हंगामा देर रात तक सड़क पर चलता रहा। इसके विरोध में मंगलवार को एक बार फिर डॉक्टरों ने मार्च बुलाया था। NEET-PG काउंसिलिंग में देरी के विरोध में दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल से डॉक्टर मार्च निकालना चाह रहे हैं, लेकिन दिल्ली पुलिस ने सभी गेट बंद कर दिए। इस दौरान डॉक्टर सफदरगंज से सुप्रीम कोर्ट मार्च निकालने वाले थे। हालांकि, इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है, पिछले एक साल से एडमिशन के लिए काउंसिलिंग बंद है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co